Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
13 Feb 2017 · 1 min read

शिकवा

किस बात का है शिकवा ना पूछ,
मेरे मौला मुझसे यह सवाल ना पूछ।

कैसे बनते हैं फूल, कलीयांँ गुलाब की,
यह राज़ मुझसे, मेरे ऐ दोसत ना पूछ।

जितने उसताद थे, सब गुज़र चुके,
बैठें हैं कयूँ हम, दरीयांँ बीछाऐ ना पूछ।

पेश ऐ नज़र है, ईनतहा मेरे पागल-पन की,
मुझ सिर फिरे से, किसा ईस ज़हाँ का ना पूछ।

फूलों का रिशता बाग से, है नहीं मुमंकीन,
केसर की मंद-मंद खुशबू, बहती हवा से ना पूछ।

करो रेहम मेरी जेब पर, मेरे दोसतों,
कयूंँ चलती है मेरी उसकी गली में, मुझसे यह ना पुछ।

रहता नहीं समय ऐक सा,
उस वकत गुज़रती है कया, ना पुछ।

दो चेहरे हर ईनसान के, ईक दिखावा दुजा फरेब,
ईनसानीयत के लिए फिर भी, तरसता कयूँ हुँ, ना पुछ।

गम तेरे होने या ना होने का नहीं मगर,
सबक दुनियाँ ने कया दिया है ऐ खुदा ना पुछ।

कयुँ “साही” शिकवा करता है,
कैह दे कोई उससे, हाल मुझ गरीब का ना पुछ।

Language: Hindi
1 Like · 405 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
सुरभित - मुखरित पर्यावरण
सुरभित - मुखरित पर्यावरण
संजय कुमार संजू
बहुत हैं!
बहुत हैं!
Srishty Bansal
मायके से दुआ लीजिए
मायके से दुआ लीजिए
Harminder Kaur
विचारों को पढ़ कर छोड़ देने से जीवन मे कोई बदलाव नही आता क्य
विचारों को पढ़ कर छोड़ देने से जीवन मे कोई बदलाव नही आता क्य
Rituraj shivem verma
फ्राॅड की कमाई
फ्राॅड की कमाई
Punam Pande
किताबें
किताबें
Dr. Pradeep Kumar Sharma
गुरु और गुरू में अंतर
गुरु और गुरू में अंतर
Subhash Singhai
क्या अजब दौर है आजकल चल रहा
क्या अजब दौर है आजकल चल रहा
Johnny Ahmed 'क़ैस'
वक्त बनाये, वक्त ही,  फोड़े है,  तकदीर
वक्त बनाये, वक्त ही, फोड़े है, तकदीर
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
Kya kahun ki kahne ko ab kuchh na raha,
Kya kahun ki kahne ko ab kuchh na raha,
Irfan khan
जिंदगी को जीने का तरीका न आया।
जिंदगी को जीने का तरीका न आया।
Taj Mohammad
"अहसास मरता नहीं"
Dr. Kishan tandon kranti
जीना सिखा दिया
जीना सिखा दिया
Basant Bhagawan Roy
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
DR ARUN KUMAR SHASTRI
23/42.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका* 🌷गाथे मीर ददरिया🌷
23/42.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका* 🌷गाथे मीर ददरिया🌷
Dr.Khedu Bharti
विश्व गौरैया दिवस
विश्व गौरैया दिवस
ब्रजनंदन कुमार 'विमल'
तुमको कुछ दे नहीं सकूँगी
तुमको कुछ दे नहीं सकूँगी
Shweta Soni
ତୁମ ର ହସ
ତୁମ ର ହସ
Otteri Selvakumar
वो स्पर्श
वो स्पर्श
Kavita Chouhan
तुम्हारा दिल ही तुम्हे आईना दिखा देगा
तुम्हारा दिल ही तुम्हे आईना दिखा देगा
VINOD CHAUHAN
*मेरे सरकार आते हैं (सात शेर)*
*मेरे सरकार आते हैं (सात शेर)*
Ravi Prakash
सरकार
सरकार "सीटों" से बनती है
*Author प्रणय प्रभात*
कहू किया आइ रूसल छी ,  कोनो कि बात भ गेल की ?
कहू किया आइ रूसल छी , कोनो कि बात भ गेल की ?
DrLakshman Jha Parimal
Motivational
Motivational
Mrinal Kumar
सफर दर-ए-यार का,दुश्वार था बहुत।
सफर दर-ए-यार का,दुश्वार था बहुत।
पूर्वार्थ
पहले नाराज़ किया फिर वो मनाने आए।
पहले नाराज़ किया फिर वो मनाने आए।
सत्य कुमार प्रेमी
सत्य की खोज
सत्य की खोज
Santosh Khanna (world record holder)
कर्त्तव्य
कर्त्तव्य
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
क्यों ? मघुर जीवन बर्बाद कर
क्यों ? मघुर जीवन बर्बाद कर
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
ज़िंदगानी
ज़िंदगानी
Shyam Sundar Subramanian
Loading...