Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
24 Oct 2023 · 1 min read

विजया दशमी की हार्दिक बधाई शुभकामनाएं 🎉🙏

हे राम हृदय में आ जाओ अंतस का रावण वध जाओ
विजया दशमी की हार्दिक शुभकामनाएं
हे राम हृदय में आ जाओ
अंतस का रावण वध जाओ
तन रूपी 10 द्वार की लंका में
कुवृत्तियों रूपी 10 मुख रहता है
आत्मा रूपी यक्ष कैद है
सदवृति रूपी सहज विभीषण
रावण के दबाव में रहता है
हिंसा द्वेष पापरत वृतियां
मेरे अंतस में बैठी हैं
अशांत रहती है दुनिया मेरी
ऊपर से अहम की हेठी है
आ जाओ श्रीराम आ जाओ
अंतस के रावण को मारो
आजाद करो यक्ष मेरा
विभीषण स्वतंत्र कर जाओ
जीत जाए मेरा भी सच
असत्य पराजित हो जाए
विजयादशमी मन जाए
रावण अंतस का जल जाए
हे राम ह्रदय में आ जाओ
अंतस का रावण वध जाओ

सुरेश कुमार चतुर्वेदी

Language: Hindi
4 Likes · 3 Comments · 169 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from सुरेश कुमार चतुर्वेदी
View all
You may also like:
बुंदेली दोहा प्रतियोगिता-151से चुने हुए श्रेष्ठ दोहे (लुगया)
बुंदेली दोहा प्रतियोगिता-151से चुने हुए श्रेष्ठ दोहे (लुगया)
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
मुस्की दे प्रेमानुकरण कर लेता हूॅं।
मुस्की दे प्रेमानुकरण कर लेता हूॅं।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
हमारे जैसी दुनिया
हमारे जैसी दुनिया
Sangeeta Beniwal
ख़बर ही नहीं
ख़बर ही नहीं
Dr fauzia Naseem shad
"ख्वाहिश"
Dr. Kishan tandon kranti
बिना रुके रहो, चलते रहो,
बिना रुके रहो, चलते रहो,
Kanchan Alok Malu
गुजरते लम्हों से कुछ पल तुम्हारे लिए चुरा लिए हमने,
गुजरते लम्हों से कुछ पल तुम्हारे लिए चुरा लिए हमने,
Hanuman Ramawat
अर्ज है
अर्ज है
Basant Bhagawan Roy
*पति-पत्नी दो श्वास हैं, किंतु एक आभास (कुंडलिया)*
*पति-पत्नी दो श्वास हैं, किंतु एक आभास (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
सुविचार
सुविचार
Dr MusafiR BaithA
हम कितने नोट/ करेंसी छाप सकते है
हम कितने नोट/ करेंसी छाप सकते है
शेखर सिंह
तुम्हारे जाने के बाद...
तुम्हारे जाने के बाद...
Prem Farrukhabadi
दरख़्त और व्यक्तित्व
दरख़्त और व्यक्तित्व
Dr Parveen Thakur
कहना नहीं तुम यह बात कल
कहना नहीं तुम यह बात कल
gurudeenverma198
कुछ मुक्तक...
कुछ मुक्तक...
डॉ.सीमा अग्रवाल
मुँहतोड़ जवाब मिलेगा
मुँहतोड़ जवाब मिलेगा
Dr. Pradeep Kumar Sharma
कभी- कभी
कभी- कभी
Harish Chandra Pande
वक्त हालत कुछ भी ठीक नहीं है अभी।
वक्त हालत कुछ भी ठीक नहीं है अभी।
Manoj Mahato
धर्मनिरपेक्ष मूल्य
धर्मनिरपेक्ष मूल्य
Shekhar Chandra Mitra
धैर्य और साहस
धैर्य और साहस
ओंकार मिश्र
एक आंसू
एक आंसू
Surinder blackpen
बहुतेरा है
बहुतेरा है
Dr. Meenakshi Sharma
आसमाँ के परिंदे
आसमाँ के परिंदे
VINOD CHAUHAN
हमे भी इश्क हुआ
हमे भी इश्क हुआ
The_dk_poetry
👍कमाल👍
👍कमाल👍
*Author प्रणय प्रभात*
मत देख कि कितनी बार  हम  तोड़े  जाते  हैं
मत देख कि कितनी बार हम तोड़े जाते हैं
Anil Mishra Prahari
सावन और साजन
सावन और साजन
Ram Krishan Rastogi
याद तो हैं ना.…...
याद तो हैं ना.…...
Dr Manju Saini
प्रिंट मीडिया का आभार
प्रिंट मीडिया का आभार
ऐ./सी.राकेश देवडे़ बिरसावादी
#हाइकू ( #लोकमैथिली )
#हाइकू ( #लोकमैथिली )
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
Loading...