Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
19 Jan 2023 · 1 min read

वास्तविक ख़तरा किसे है?

न तो धर्म
ख़तरे में है
न ही ईमान
ख़तरे में है!
न सभ्यता
और संस्कृति की
पहचान
ख़तरे में है!!
अपने अधिकारों
को लेकर
चौकस हुए
अवाम से!
कातिलों
और लूटेरों का
निज़ाम
ख़तरे में है!!
#बुद्धिजीवी #कवि #बगावत
#Politics #Shayari #शायर
#विद्रोही #media #हकमारी
#सियासी #अवामी #इंकलाबी

Language: Hindi
324 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
* विजयदशमी मनाएं हम *
* विजयदशमी मनाएं हम *
surenderpal vaidya
As you pursue your goals and become a better version of your
As you pursue your goals and become a better version of your
पूर्वार्थ
आफ़ताब
आफ़ताब
Atul "Krishn"
एक ठंडी हवा का झोंका है बेटी: राकेश देवडे़ बिरसावादी
एक ठंडी हवा का झोंका है बेटी: राकेश देवडे़ बिरसावादी
ऐ./सी.राकेश देवडे़ बिरसावादी
प्रियतम तुम हमको मिले ,अहोभाग्य शत बार(कुंडलिया)
प्रियतम तुम हमको मिले ,अहोभाग्य शत बार(कुंडलिया)
Ravi Prakash
मित्र
मित्र
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
अवधी गीत
अवधी गीत
प्रीतम श्रावस्तवी
फिर किस मोड़ पे मिलेंगे बिछड़कर हम दोनों,
फिर किस मोड़ पे मिलेंगे बिछड़कर हम दोनों,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
🙅मतगणना🙅
🙅मतगणना🙅
*प्रणय प्रभात*
अरे लोग गलत कहते हैं कि मोबाइल हमारे हाथ में है
अरे लोग गलत कहते हैं कि मोबाइल हमारे हाथ में है
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
तुम पढ़ो नहीं मेरी रचना  मैं गीत कोई लिख जाऊंगा !
तुम पढ़ो नहीं मेरी रचना मैं गीत कोई लिख जाऊंगा !
DrLakshman Jha Parimal
दूर देदो पास मत दो
दूर देदो पास मत दो
Ajad Mandori
वक्त बर्बाद करने वाले को एक दिन वक्त बर्बाद करके छोड़ता है।
वक्त बर्बाद करने वाले को एक दिन वक्त बर्बाद करके छोड़ता है।
Paras Nath Jha
"बहाव"
Dr. Kishan tandon kranti
प्रकृति - विकास (कविता) 11.06 .19 kaweeshwar
प्रकृति - विकास (कविता) 11.06 .19 kaweeshwar
jayanth kaweeshwar
हाँ देख रहा हूँ सीख रहा हूँ
हाँ देख रहा हूँ सीख रहा हूँ
विकास शुक्ल
मेहनत
मेहनत
Dr. Pradeep Kumar Sharma
" ठिठक गए पल "
भगवती प्रसाद व्यास " नीरद "
फिसल गए खिलौने
फिसल गए खिलौने
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
पृथ्वी दिवस
पृथ्वी दिवस
Kumud Srivastava
कोरोंना
कोरोंना
Bodhisatva kastooriya
अच्छे नहीं है लोग ऐसे जो
अच्छे नहीं है लोग ऐसे जो
gurudeenverma198
*ऐसा युग भी आएगा*
*ऐसा युग भी आएगा*
Harminder Kaur
आँख मिचौली जिंदगी,
आँख मिचौली जिंदगी,
sushil sarna
परित्यक्ता
परित्यक्ता
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
*प्रेम भेजा  फ्राई है*
*प्रेम भेजा फ्राई है*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
!! घड़ी समर की !!
!! घड़ी समर की !!
Chunnu Lal Gupta
गुमशुदा लोग
गुमशुदा लोग
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
दोस्त
दोस्त
Pratibha Pandey
वृंदावन की कुंज गलियां 💐
वृंदावन की कुंज गलियां 💐
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
Loading...