Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
6 Sep 2016 · 1 min read

लक्ष्‍य का संधान कर

मान कर, सम्‍मान कर,
संकल्‍प ले, अनुमान कर।
कर प्रण अटल, दृढ़ निश्‍चय कर
और लक्ष्‍य का संधान कर।

मत भूत का संज्ञान कर,
बस धन्‍य वर्तमान कर।
बढ़ प्रगति पथ पर वर्द्धमान,
भविष्‍य का अनुसंधान कर।।

योग कर तू योग्‍य है,
न अयोग्‍य का तू वियोग कर।
यह जन्‍म तो संयोग है,
प्रयोग कर प्रतियोग कर।
उद्योग कर, विनियोग कर,
मनोयोग से सहयोग कर।
मत पाल भ्रूम, नियोग कर,
तू कर्मयोगी सुयोग कर।

कर सके अनुकरण कर,
अनुसरण कर, कुछ वरण कर।
प्रभुचरण में अर्पण,प्रवण तू,
प्रणव का स्‍मरण कर।
परिभ्रमण कर, परिश्रमण कर,
जीवन को तू संस्‍करण कर।
ना अतिक्रमण कर, परिचरण कर,
सत्‍संग कर, हरिशरण कर।

परिहास ना प्रयास कर,
परिभाष ना प्रभाष कर।
परिदोष ना प्रदोष कर,
परितोष नार संतोष कर।
प्रहार ना परिहार कर,
संहार ना सब हार कर।

कंचन सा तप और ध्‍यान कर,
संकल्‍प ले, अनुमान कर।
कर प्रण अटल, दृढ़ निश्‍चय कर
और लक्ष्‍य का संधान कर।।

Language: Hindi
942 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
2939.*पूर्णिका*
2939.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
इस तरफ न अभी देख मुझे
इस तरफ न अभी देख मुझे
Indu Singh
"शुभचिन्तक"
Dr. Kishan tandon kranti
खूबसूरत है....
खूबसूरत है....
The_dk_poetry
*पापी पेट के लिए *
*पापी पेट के लिए *
DR ARUN KUMAR SHASTRI
एक दिन
एक दिन
Harish Chandra Pande
*जिनको चॉंदी का मिला, चम्मच श्रेष्ठ महान (कुंडलिया)*
*जिनको चॉंदी का मिला, चम्मच श्रेष्ठ महान (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
दोहा बिषय- दिशा
दोहा बिषय- दिशा
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
तुम्हें पाना-खोना एकसार सा है--
तुम्हें पाना-खोना एकसार सा है--
Shreedhar
*खत आखरी उसका जलाना पड़ा मुझे*
*खत आखरी उसका जलाना पड़ा मुझे*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
आखिरी दिन होगा वो
आखिरी दिन होगा वो
shabina. Naaz
सर्वप्रथम पिया से रंग
सर्वप्रथम पिया से रंग
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
सच तो तस्वीर,
सच तो तस्वीर,
Neeraj Agarwal
अपनी कीमत उतनी रखिए जितना अदा की जा सके
अपनी कीमत उतनी रखिए जितना अदा की जा सके
Ranjeet kumar patre
क्या छिपा रहे हो
क्या छिपा रहे हो
Ritu Asooja
में इंसान हुँ इंसानियत की बात करता हूँ।
में इंसान हुँ इंसानियत की बात करता हूँ।
Anil chobisa
नारी के मन की पुकार
नारी के मन की पुकार
Anamika Tiwari 'annpurna '
मैं हर रोज़ देखता हूं इक खूबसूरत सा सफ़र,
मैं हर रोज़ देखता हूं इक खूबसूरत सा सफ़र,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
हमें रामायण
हमें रामायण
Dr.Rashmi Mishra
जाने कब दुनियां के वासी चैन से रह पाएंगे।
जाने कब दुनियां के वासी चैन से रह पाएंगे।
सत्य कुमार प्रेमी
प्रकृति में एक अदृश्य शक्ति कार्य कर रही है जो है तुम्हारी स
प्रकृति में एक अदृश्य शक्ति कार्य कर रही है जो है तुम्हारी स
Rj Anand Prajapati
पानी की तस्वीर तो देखो
पानी की तस्वीर तो देखो
VINOD CHAUHAN
सवर्ण
सवर्ण
Dr. Pradeep Kumar Sharma
■ मन गई राखी, लग गया चूना...😢
■ मन गई राखी, लग गया चूना...😢
*प्रणय प्रभात*
******छोटी चिड़ियाँ*******
******छोटी चिड़ियाँ*******
Dr. Vaishali Verma
शिकवा गिला शिकायतें
शिकवा गिला शिकायतें
Dr fauzia Naseem shad
माँ दुर्गा मुझे अपना सहारा दो
माँ दुर्गा मुझे अपना सहारा दो
Suman (Aditi Angel 🧚🏻)
रुत चुनावी आई🙏
रुत चुनावी आई🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
बड़ी मछली सड़ी मछली
बड़ी मछली सड़ी मछली
Dr MusafiR BaithA
दुनिया से ख़ाली हाथ सिकंदर चला गया
दुनिया से ख़ाली हाथ सिकंदर चला गया
Monika Arora
Loading...