Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Settings
Aug 27, 2016 · 1 min read

रगं तआस्सुब के जो देगी राजधानी हर तरफ़

खूब है मशहूर ये झूठी कहानी हर तरफ़
चाँद पर देखी गई है एक नानी हर तरफ
…….
सारी दुनिया जानती है क़ीमतें इनकी मगर
क्यों बहाते फिर रहे हैं खून पानी हर तरफ़
…….
आप क़ायम कर नहीं सकते अगर चैनो अम्न
कैसे कर सकते हैं क़ायम हुक्मरानी हर तरफ़
…….
उम्र भर मैं प्यार के दो बोल को तरसा मगर
थी बहुत बिखरी हुई शींरी ज़बानी हर तरफ़
……
मैं अकेला ही खडा था देश की सरहद पे जब
फोन पर मसरुफ़ था जोशे जवानी हर तरफ़
……
चीख उटठेगी किसी दिन ये रियाया देखना
रंग तअस्सुब के जो देगी राजधानी हर तरफ
…….
ख़्वाबे ग़फ़्लत में पड़ा हूँ एक मुद्दत से मगर
देती है आवाज़ मुझको कामरानी हर तरफ़
……
आप मेहमां किसी के खुश गुमानी छोडिये
आप जा कर रहे हैं मेज़बानी हर तरफ
……..
सालिब चन्दियानवी

288 Views
You may also like:
दिल का यह
Dr fauzia Naseem shad
✍️प्यारी बिटिया ✍️
Vaishnavi Gupta
टूटा हुआ दिल
Anamika Singh
नदी सा प्यार
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
खुद से बच कर
Dr fauzia Naseem shad
ब्रेकिंग न्यूज़
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
मर गये ज़िंदगी को
Dr fauzia Naseem shad
पिता
Mamta Rani
मत रो ऐ दिल
Anamika Singh
पिता
Neha Sharma
सूरज से मनुहार (ग्रीष्म-गीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
बाबासाहेब 'अंबेडकर '
Buddha Prakash
हवा का हुक़्म / (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
गुलामी के पदचिन्ह
मनोज कर्ण
Kavita Nahi hun mai
Shyam Pandey
एसजेवीएन - बढ़ते कदम
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
!!*!! कोरोना मजबूत नहीं कमजोर है !!*!!
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
झरने और कवि का वार्तालाप
Ram Krishan Rastogi
नदी की अभिलाषा / (गीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
भोर का नवगीत / (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
द माउंट मैन: दशरथ मांझी
साहित्य लेखन- एहसास और जज़्बात
''प्रकृति का गुस्सा कोरोना''
Dr Meenu Poonia
बुध्द गीत
Buddha Prakash
पीयूष छंद-पिताजी का योगदान
asha0963
बहुत प्यार करता हूं तुमको
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
जी, वो पिता है
सूर्यकांत द्विवेदी
“ तेरी लौ ”
DESH RAJ
*पापा … मेरे पापा …*
Neelam Chaudhary
The Sacrifice of Ravana
Abhineet Mittal
मुझे तुम भूल सकते हो
Dr fauzia Naseem shad
Loading...