Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
14 Apr 2024 · 1 min read

“रख हिम्मत”

“रख हिम्मत”
मत घबरा
मन में रख हिम्मत
सब अच्छा होगा
इसी आश की,
फिर एक तीली जला
आत्मविश्वास की।

2 Likes · 1 Comment · 80 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr. Kishan tandon kranti
View all
You may also like:
वट सावित्री
वट सावित्री
लक्ष्मी सिंह
*अज्ञानी की कलम*
*अज्ञानी की कलम*
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
तितलियां
तितलियां
Adha Deshwal
आतंकवाद सारी हदें पार कर गया है
आतंकवाद सारी हदें पार कर गया है
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
रामपुर में थियोसॉफिकल सोसायटी के पर्याय श्री हरिओम अग्रवाल जी
रामपुर में थियोसॉफिकल सोसायटी के पर्याय श्री हरिओम अग्रवाल जी
Ravi Prakash
3327.⚘ *पूर्णिका* ⚘
3327.⚘ *पूर्णिका* ⚘
Dr.Khedu Bharti
मकड़ी ने जाला बुना, उसमें फँसे शिकार
मकड़ी ने जाला बुना, उसमें फँसे शिकार
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
हिंदी भारत की पहचान
हिंदी भारत की पहचान
Suman (Aditi Angel 🧚🏻)
श्रावणी हाइकु
श्रावणी हाइकु
Dr. Pradeep Kumar Sharma
🌸प्रकृति 🌸
🌸प्रकृति 🌸
Mahima shukla
शहीद की अंतिम यात्रा
शहीद की अंतिम यात्रा
Nishant Kumar Mishra
I KNOW ...
I KNOW ...
SURYA PRAKASH SHARMA
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
ये आँखें तेरे आने की उम्मीदें जोड़ती रहीं
ये आँखें तेरे आने की उम्मीदें जोड़ती रहीं
Kailash singh
बसंती हवा
बसंती हवा
Arvina
Me and My Yoga Mat!
Me and My Yoga Mat!
R. H. SRIDEVI
फटा ब्लाउज ....लघु कथा
फटा ब्लाउज ....लघु कथा
sushil sarna
आहत हूॅ
आहत हूॅ
Dinesh Kumar Gangwar
इंसानियत का वजूद
इंसानियत का वजूद
Shyam Sundar Subramanian
मेरी प्यारी हिंदी
मेरी प्यारी हिंदी
रेखा कापसे
दोहा
दोहा
गुमनाम 'बाबा'
सावित्रीबाई फुले और पंडिता रमाबाई
सावित्रीबाई फुले और पंडिता रमाबाई
Shekhar Chandra Mitra
रामभक्त हनुमान
रामभक्त हनुमान
Seema gupta,Alwar
मौसम
मौसम
Monika Verma
.......अधूरी........
.......अधूरी........
Naushaba Suriya
"ऐसा क्यों होता है?"
Dr. Kishan tandon kranti
मधुर व्यवहार
मधुर व्यवहार
Paras Nath Jha
के अब चराग़ भी शर्माते हैं देख तेरी सादगी को,
के अब चराग़ भी शर्माते हैं देख तेरी सादगी को,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
- ଓଟେରି ସେଲଭା କୁମାର
- ଓଟେରି ସେଲଭା କୁମାର
Otteri Selvakumar
सर के बल चलकर आएँगी, खुशियाँ अपने आप।
सर के बल चलकर आएँगी, खुशियाँ अपने आप।
डॉ.सीमा अग्रवाल
Loading...