Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
9 Oct 2022 · 1 min read

युवा आक्रोश का कवि

मैं युवा पीढ़ी के आक्रोश को
अभिव्यक्ति देता रहूंगा!
आंदोलनों और प्रदर्शनों को
कुछ शक्ति देता रहूंगा!
इस आसन और सिंहासन के
एक घिनौने षड्यंत्र से!
बंदी रही जो मानवीय चेतना
उसे मुक्ति देता रहूंगा!
#हक़ #शूद्र #Dalits #कवि #शायर
#WomensMarch #विद्रोह #क्रांति
#लेखक #AngryYoungMan

Language: Hindi
214 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
यूँ तो समन्दर में कभी गोते लगाया करते थे हम
यूँ तो समन्दर में कभी गोते लगाया करते थे हम
The_dk_poetry
*जुदाई न मिले किसी को*
*जुदाई न मिले किसी को*
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
😢स्मृति शेष / संस्मरण
😢स्मृति शेष / संस्मरण
*प्रणय प्रभात*
सहारा
सहारा
Neeraj Agarwal
पिछले पन्ने 9
पिछले पन्ने 9
Paras Nath Jha
आगे बढ़ने दे नहीं,
आगे बढ़ने दे नहीं,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
आज फिर से
आज फिर से
Madhuyanka Raj
हिंदी साहित्य की नई विधा : सजल
हिंदी साहित्य की नई विधा : सजल
Sushila joshi
*जनसेवा अब शब्दकोश में फरमाती आराम है (गीतिका)*
*जनसेवा अब शब्दकोश में फरमाती आराम है (गीतिका)*
Ravi Prakash
किरदार हो या
किरदार हो या
Mahender Singh
जब मैं परदेश जाऊं
जब मैं परदेश जाऊं
gurudeenverma198
,,,,,,,,,,?
,,,,,,,,,,?
शेखर सिंह
मेरी लाज है तेरे हाथ
मेरी लाज है तेरे हाथ
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
*ट्रक का ज्ञान*
*ट्रक का ज्ञान*
Dr. Priya Gupta
फागुन की अंगड़ाई
फागुन की अंगड़ाई
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
आप देखो जो मुझे सीने  लगाओ  तभी
आप देखो जो मुझे सीने लगाओ तभी
दीपक झा रुद्रा
खोज सत्य की जारी है
खोज सत्य की जारी है
महेश चन्द्र त्रिपाठी
*
*"शिक्षक"*
Shashi kala vyas
नारियों के लिए जगह
नारियों के लिए जगह
Dr. Kishan tandon kranti
खूबसूरत है किसी की कहानी का मुख्य किरदार होना
खूबसूरत है किसी की कहानी का मुख्य किरदार होना
पूर्वार्थ
बात पुरानी याद आई
बात पुरानी याद आई
नूरफातिमा खातून नूरी
" गुरु का पर, सम्मान वही है ! "
Saransh Singh 'Priyam'
मुक्तक-विन्यास में एक तेवरी
मुक्तक-विन्यास में एक तेवरी
कवि रमेशराज
ये जो आँखों का पानी है बड़ा खानदानी है
ये जो आँखों का पानी है बड़ा खानदानी है
कवि दीपक बवेजा
कृपया मेरी सहायता करो...
कृपया मेरी सहायता करो...
Srishty Bansal
नाम मौहब्बत का लेकर मेरी
नाम मौहब्बत का लेकर मेरी
Phool gufran
कुछ तो मेरी वफ़ा का
कुछ तो मेरी वफ़ा का
Dr fauzia Naseem shad
ज्ञानमय
ज्ञानमय
Pt. Brajesh Kumar Nayak
❤बिना मतलब के जो बात करते है
❤बिना मतलब के जो बात करते है
Satyaveer vaishnav
बाज़ार में क्लीवेज : क्लीवेज का बाज़ार / MUSAFIR BAITHA
बाज़ार में क्लीवेज : क्लीवेज का बाज़ार / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
Loading...