Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
5 May 2024 · 1 min read

मुकद्दर तेरा मेरा एक जैसा क्यों लगता है

मुकद्दर तेरा मेरा एक जैसा क्यों लगता है
सूना घर तेरा मेरा एक जैसा क्यों लगता है

तुम भी हो अकेले और हम भी हैं अकेले
ये तन्हाई का घेरा एक जैसा क्यों लगता है

दिन गुजरे बेचैन नहीं यूँ नींद रात में आए
ये साँझ और सवेरा एक जैसा क्यों लगता है

बिखरे सब ख्वाब हमारे टूटे हैं सपने सारे
दिल का ये अंधेरा एक जैसा क्यों लगता है

है ‘V9द’अधूरा जीवन कैसा हम दोनो का
जाने गम तेरा मेरा एक जैसा क्यों लगता है

स्वरचित
विनोद चौहान

Go to website

35 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from VINOD CHAUHAN
View all
You may also like:
जादुई गज़लों का असर पड़ा है तेरी हसीं निगाहों पर,
जादुई गज़लों का असर पड़ा है तेरी हसीं निगाहों पर,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
किसी और से इश्क़ दुबारा नहीं होगा
किसी और से इश्क़ दुबारा नहीं होगा
Madhuyanka Raj
घनाक्षरी छंदों के नाम , विधान ,सउदाहरण
घनाक्षरी छंदों के नाम , विधान ,सउदाहरण
Subhash Singhai
आ लौट के आजा टंट्या भील
आ लौट के आजा टंट्या भील
ऐ./सी.राकेश देवडे़ बिरसावादी
आहिस्था चल जिंदगी
आहिस्था चल जिंदगी
Rituraj shivem verma
चंद्र प्रकाश द्वय:ः मधुर यादें
चंद्र प्रकाश द्वय:ः मधुर यादें
Ravi Prakash
पर्यावरण दिवस पर विशेष गीत
पर्यावरण दिवस पर विशेष गीत
बिमल तिवारी “आत्मबोध”
ॐ शिव शंकर भोले नाथ र
ॐ शिव शंकर भोले नाथ र
Swami Ganganiya
अदाकारी
अदाकारी
Suryakant Dwivedi
बंदूक से अत्यंत ज़्यादा विचार घातक होते हैं,
बंदूक से अत्यंत ज़्यादा विचार घातक होते हैं,
शेखर सिंह
क्यूं हो शामिल ,प्यासों मैं हम भी //
क्यूं हो शामिल ,प्यासों मैं हम भी //
गुप्तरत्न
“शादी के बाद- मिथिला दर्शन” ( संस्मरण )
“शादी के बाद- मिथिला दर्शन” ( संस्मरण )
DrLakshman Jha Parimal
आईना
आईना
हिमांशु बडोनी (दयानिधि)
षड्यंत्रों वाली मंशा पर वार हुआ है पहली बार।
षड्यंत्रों वाली मंशा पर वार हुआ है पहली बार।
*प्रणय प्रभात*
गुरु चरण
गुरु चरण
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
तिरंगा
तिरंगा
Dr. Pradeep Kumar Sharma
इश्क़ एक सबब था मेरी ज़िन्दगी मे,
इश्क़ एक सबब था मेरी ज़िन्दगी मे,
पूर्वार्थ
गाँधी जयंती
गाँधी जयंती
Surya Barman
मतदान जरूरी है - हरवंश हृदय
मतदान जरूरी है - हरवंश हृदय
हरवंश हृदय
🌺🌺इन फाँसलों को अन्जाम दो🌺🌺
🌺🌺इन फाँसलों को अन्जाम दो🌺🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
*भारतीय क्रिकेटरों का जोश*
*भारतीय क्रिकेटरों का जोश*
Harminder Kaur
स्वाभिमान
स्वाभिमान
Shyam Sundar Subramanian
सब्र रखो सच्च है क्या तुम जान जाओगे
सब्र रखो सच्च है क्या तुम जान जाओगे
VINOD CHAUHAN
3007.*पूर्णिका*
3007.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
भजन - माॅं नर्मदा का
भजन - माॅं नर्मदा का
अरविन्द राजपूत 'कल्प'
खुद से मिल
खुद से मिल
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
बाल कविता: वर्षा ऋतु
बाल कविता: वर्षा ऋतु
Rajesh Kumar Arjun
मनुष्य भी जब ग्रहों का फेर समझ कर
मनुष्य भी जब ग्रहों का फेर समझ कर
Paras Nath Jha
महाकाल भोले भंडारी|
महाकाल भोले भंडारी|
Vedha Singh
"खुद के खिलाफ़"
Dr. Kishan tandon kranti
Loading...