Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
24 Feb 2017 · 1 min read

माँ भारती,तोड़ती पथ्थर

मातृभूमि से बढ़ कर नहीं कोई उपलब्धि तेरी, सत्य विजय से पहले व्यर्थ ही हर रणनीति होती,
धिक्कारती माँ भारती,तोड़ती पथ्थर देखती तुझे छिन्नतार,
कलम में तेरे वो पुरुषार्थ नही तू बैठ रहा लाचार,
उठो माँ भारती के कुल दीपक कर दो अब संखनाद,
कहदो संकर से तुम आज वे करें प्रलय नृत्य फिर एक बार,
सारे भारत में गूँज उठे हर हर बंम्बम का महोत्तचार,
उठो माँ भारती के कुल दीपक, लगाओ भगत को आवाज,
कह दो भगत से आज वे जलाएं सम्मा_ए_वतन फिर एक बार,
तैयार पतगा बैठा है हो सके वतन पर कुर्बान, उठो चलो,देखे वो कौन गरीबी भुखमरी यह कैसा अत्याचार l

Language: Hindi
420 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
बुढ़ापा
बुढ़ापा
Shyamsingh Lodhi (Tejpuriya)
तुम मेरे बादल हो, मै तुम्हारी काली घटा हूं
तुम मेरे बादल हो, मै तुम्हारी काली घटा हूं
Ram Krishan Rastogi
जिंदगी का सफर बिन तुम्हारे कैसे कटे
जिंदगी का सफर बिन तुम्हारे कैसे कटे
VINOD CHAUHAN
दुनिया को ऐंसी कलम चाहिए
दुनिया को ऐंसी कलम चाहिए
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
*जिंदगी  जीने  का नाम है*
*जिंदगी जीने का नाम है*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
यूं हर हर क़दम-ओ-निशां पे है ज़िल्लतें
यूं हर हर क़दम-ओ-निशां पे है ज़िल्लतें
Aish Sirmour
मुक्तक-
मुक्तक-
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
हारता वो है जो शिकायत
हारता वो है जो शिकायत
नेताम आर सी
■ अपना दर्द, दवा भी अपनी।।
■ अपना दर्द, दवा भी अपनी।।
*Author प्रणय प्रभात*
कवि की कल्पना
कवि की कल्पना
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
कुर्सीनामा
कुर्सीनामा
Shekhar Chandra Mitra
2840.*पूर्णिका*
2840.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
सियासी बातें
सियासी बातें
Shriyansh Gupta
आदिशक्ति वन्दन
आदिशक्ति वन्दन
Mohan Pandey
*** सफ़र जिंदगी के....!!! ***
*** सफ़र जिंदगी के....!!! ***
VEDANTA PATEL
सँविधान
सँविधान
Bodhisatva kastooriya
💐प्रेम कौतुक-302💐
💐प्रेम कौतुक-302💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
हीरक जयंती 
हीरक जयंती 
Punam Pande
पाती कोई जब लिखता है।
पाती कोई जब लिखता है।
डॉक्टर रागिनी
दिल को समझाने का ही तो सारा मसला है
दिल को समझाने का ही तो सारा मसला है
shabina. Naaz
वो ओस की बूंदे और यादें
वो ओस की बूंदे और यादें
Neeraj Agarwal
*अहम ब्रह्मास्मि*
*अहम ब्रह्मास्मि*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम
मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम
Er.Navaneet R Shandily
अब रिश्तों का व्यापार यहां बखूबी चलता है
अब रिश्तों का व्यापार यहां बखूबी चलता है
Pramila sultan
सुनो पहाड़ की.....!!! (भाग - ४)
सुनो पहाड़ की.....!!! (भाग - ४)
Kanchan Khanna
ਧੱਕੇ
ਧੱਕੇ
Surinder blackpen
"रुख़सत"
Dr. Kishan tandon kranti
* जिन्दगी में *
* जिन्दगी में *
surenderpal vaidya
.        ‼️🌹जय श्री कृष्ण🌹‼️
. ‼️🌹जय श्री कृष्ण🌹‼️
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
स्वयं ही स्वयं का अगर सम्मान करे नारी
स्वयं ही स्वयं का अगर सम्मान करे नारी
Dr fauzia Naseem shad
Loading...