Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
20 Jan 2017 · 1 min read

मन

मन – पंकज त्रिवेदी
**

मन !
ये मन है जो कितना कुछ सोचता है
क्या क्या सोचता है और क्या क्या
दिखाते हैं हम…

मन !
जो भी सोचता है वो न हम कहते हैं
न वोही सोचते हैं जो हम कह देते हैं
छलते हैं हम…

मन !
कभी हमें आनंद देता है हमारे झूठ के लिए
कभी हमें ही कोसता रहता है झूठ के लिए
ठगते हैं हम…

मन !
ऐसा भी हों कि जो चाहें वोही कहते हैं हम
जो सोचें वो अच्छा हों और उसी को सुनें हम
सुनते हैं हम…

मन !
कभी अपने दिल की बात मानता है तो कभी
किसीके बहकावे में आकर कुछ भी कर देते हैं
कर देते हैं हम…

मन !
यही मन है जो दिन-रात सपने दिखाता है
यही मन है जो सपनों से ज़िंदगी सजाता है
ज़िंदगी बनाते हैं हम…

मन !
मन ही हमें भटकने को मजबूर करता है तो
मन ही हमें कुसंग से सत्संग करवाता है और
इंसान बन जाते हैं हम…

मन !
मन चल है, अचल भी है मन ही मरकट है
मन ही पहचान है, मन साधना का साधन
मन ही है तो है हम….

______________________

Language: Hindi
277 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
मेरी बातें दिल से न लगाया कर
मेरी बातें दिल से न लगाया कर
Manoj Mahato
" नारी का दुख भरा जीवन "
Surya Barman
"सुप्रभात"
Yogendra Chaturwedi
मिल ही जाते हैं
मिल ही जाते हैं
Surinder blackpen
*सूझबूझ के धनी : हमारे बाबा जी लाला भिकारी लाल सर्राफ* (संस्मरण)
*सूझबूझ के धनी : हमारे बाबा जी लाला भिकारी लाल सर्राफ* (संस्मरण)
Ravi Prakash
जगदाधार सत्य
जगदाधार सत्य
महेश चन्द्र त्रिपाठी
#शिवाजी_के_अल्फाज़
#शिवाजी_के_अल्फाज़
Abhishek Shrivastava "Shivaji"
मन में रखिए हौसला,
मन में रखिए हौसला,
Kaushal Kishor Bhatt
अर्थार्जन का सुखद संयोग
अर्थार्जन का सुखद संयोग
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
23/166.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/166.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
"साये"
Dr. Kishan tandon kranti
दौड़ी जाती जिंदगी,
दौड़ी जाती जिंदगी,
sushil sarna
👍आज का एलान👍
👍आज का एलान👍
*Author प्रणय प्रभात*
हर एक मंजिल का अपना कहर निकला
हर एक मंजिल का अपना कहर निकला
कवि दीपक बवेजा
" जलाओ प्रीत दीपक "
Chunnu Lal Gupta
अंतर्राष्ट्रीय पाई दिवस पर....
अंतर्राष्ट्रीय पाई दिवस पर....
डॉ.सीमा अग्रवाल
पूनम की चांदनी रात हो,पिया मेरे साथ हो
पूनम की चांदनी रात हो,पिया मेरे साथ हो
Ram Krishan Rastogi
दोहा
दोहा
दुष्यन्त 'बाबा'
याद रे
याद रे
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
बुदबुदा कर तो देखो
बुदबुदा कर तो देखो
Mahender Singh
ख्वाबों से परहेज़ है मेरा
ख्वाबों से परहेज़ है मेरा "वास्तविकता रूह को सुकून देती है"
Rahul Singh
रामायण से सीखिए,
रामायण से सीखिए,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
*गम को यूं हलक में  पिया कर*
*गम को यूं हलक में पिया कर*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
तेरी याद
तेरी याद
Shyam Sundar Subramanian
Anxiety fucking sucks.
Anxiety fucking sucks.
पूर्वार्थ
నమో నమో నారసింహ
నమో నమో నారసింహ
डॉ गुंडाल विजय कुमार 'विजय'
क्यूट हो सुंदर हो प्यारी सी लगती
क्यूट हो सुंदर हो प्यारी सी लगती
Jitendra Chhonkar
चुनावी घोषणा पत्र
चुनावी घोषणा पत्र
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
(9) डूब आया मैं लहरों में !
(9) डूब आया मैं लहरों में !
Kishore Nigam
रिश्तों की गहराई लिख - संदीप ठाकुर
रिश्तों की गहराई लिख - संदीप ठाकुर
Sandeep Thakur
Loading...