Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
14 Jul 2016 · 1 min read

बोलो तुम्हें किसने बुलाया है??

14.07.16
क्यूँ आज समन्दर आया है
सहरा सहरा हम तो थे अब
नयनों ने क्यूँ तुम्हें बुलाया है,,,

लम्हे लम्हे जिन्दा थे हम
क्षण क्षण ने अब डराया है,

साथ जरूरी था जो बेहद
उसने ही यूँ बिसराया है,

आस निरर्थक जागी थीं क्यूँ
ख़ास किसी अपने से अबभी
आज भरी महफ़िल में देखो
अकेला खुद को पाया है,,

क्यूँ आज समन्दर आया है
सहरा सहरा हम तो थे अब
नयनों ने क्यूँ तुम्हें बुलाया है..

***शुचि(भवि)***

Language: Hindi
2 Comments · 367 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
करम के नांगर  ला भूत जोतय ।
करम के नांगर ला भूत जोतय ।
Lakhan Yadav
■ आज का शेर-
■ आज का शेर-
*Author प्रणय प्रभात*
दिल की हक़ीक़त
दिल की हक़ीक़त
Dr fauzia Naseem shad
3199.*पूर्णिका*
3199.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
प्रथम नमन मात पिता ने, गौरी सुत गजानन काव्य में बैगा पधारजो
प्रथम नमन मात पिता ने, गौरी सुत गजानन काव्य में बैगा पधारजो
Anil chobisa
🥀*अज्ञानी की कलम*🥀
🥀*अज्ञानी की कलम*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
'नव कुंडलिया 'राज' छंद' में रमेशराज के विरोधरस के गीत
'नव कुंडलिया 'राज' छंद' में रमेशराज के विरोधरस के गीत
कवि रमेशराज
ज़िंदगी इतनी मुश्किल भी नहीं
ज़िंदगी इतनी मुश्किल भी नहीं
Dheerja Sharma
ताटंक कुकुभ लावणी छंद और विधाएँ
ताटंक कुकुभ लावणी छंद और विधाएँ
Subhash Singhai
राह हमारे विद्यालय की
राह हमारे विद्यालय की
bhandari lokesh
राख का ढेर।
राख का ढेर।
Taj Mohammad
झूम मस्ती में झूम
झूम मस्ती में झूम
gurudeenverma198
गांव के छोरे
गांव के छोरे
जय लगन कुमार हैप्पी
नम आँखे
नम आँखे
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
कबीर: एक नाकाम पैगंबर
कबीर: एक नाकाम पैगंबर
Shekhar Chandra Mitra
जो बनना चाहते हो
जो बनना चाहते हो
dks.lhp
विचार
विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
The life of an ambivert is the toughest. You know why? I'll
The life of an ambivert is the toughest. You know why? I'll
Sukoon
" भूलने में उसे तो ज़माने लगे "
भगवती प्रसाद व्यास " नीरद "
कुदरत का प्यारा सा तोहफा ये सारी दुनियां अपनी है।
कुदरत का प्यारा सा तोहफा ये सारी दुनियां अपनी है।
सत्य कुमार प्रेमी
है मुश्किल दौर सूखी,
है मुश्किल दौर सूखी,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
लत / MUSAFIR BAITHA
लत / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
रिश्ते बनाना आसान है
रिश्ते बनाना आसान है
shabina. Naaz
💐प्रेम कौतुक-198💐
💐प्रेम कौतुक-198💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
*न जाने रोग है कोई, या है तेरी मेहरबानी【मुक्तक】*
*न जाने रोग है कोई, या है तेरी मेहरबानी【मुक्तक】*
Ravi Prakash
ग़ज़ल सगीर
ग़ज़ल सगीर
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
*मेरे पापा*
*मेरे पापा*
Shashi kala vyas
यादो की चिलमन
यादो की चिलमन
Sandeep Pande
गद्य के संदर्भ में क्या छिपा है
गद्य के संदर्भ में क्या छिपा है
Shweta Soni
"जब आपका कोई सपना होता है, तो
Manoj Kushwaha PS
Loading...