Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
14 Apr 2021 · 1 min read

बाबासाहेब ‘अंबेडकर ‘

भीम महू में जन्मे हैं
बाबासाहेब कहते सब

अधिकारों के रक्षक हैं
अंबेडकर है नाम बड़ा

‘ जय भीम ‘ सब कहते हैं
हृदय में दीपक जलते हैं

पाया शिक्षा का अधिकार
समानता का दे गये हैं प्यार

ऐसा सबको विधान बताये
संविधान के ‘जनक’ कहलाए

भेदभाव से ऊपर उठकर
नारी को सम्मान दिलाए

डॉ भीमराव हैं उनका नाम
कलम है उनका हथियार

छुआछूत से मुक्ति देकर
भारत में मानवता लाए

ज्ञान के प्रतीक कहलाए
जीने का अधिकार दिलाए

बंधुत्व का भाव जगा कर
शोषितो को न्याय दिलाए

दलितों के मसीहा कहलाए
‘भारत रत्न ‘ की उपाधि पाए

‘बोधिसत्व’ वो कहलाए
बुद्ध की राह दिखाए ।

12 Likes · 8 Comments · 2009 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Buddha Prakash
View all
You may also like:
दीप आशा के जलें
दीप आशा के जलें
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
एक चतुर नार
एक चतुर नार
लक्ष्मी सिंह
★भारतीय किसान★
★भारतीय किसान★
★ IPS KAMAL THAKUR ★
* पहचान की *
* पहचान की *
surenderpal vaidya
वो दौर था ज़माना जब नज़र किरदार पर रखता था।
वो दौर था ज़माना जब नज़र किरदार पर रखता था।
शिव प्रताप लोधी
"जलाओ दीप घंटा भी बजाओ याद पर रखना
आर.एस. 'प्रीतम'
विध्न विनाशक नाथ सुनो, भय से भयभीत हुआ जग सारा।
विध्न विनाशक नाथ सुनो, भय से भयभीत हुआ जग सारा।
संजीव शुक्ल 'सचिन'
आज होगा नहीं तो कल होगा
आज होगा नहीं तो कल होगा
Shweta Soni
■आज पता चला■
■आज पता चला■
*Author प्रणय प्रभात*
"हकीकत"
Dr. Kishan tandon kranti
राम
राम
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
पाखी खोले पंख : व्यापक फलक की प्रस्तुति
पाखी खोले पंख : व्यापक फलक की प्रस्तुति
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
*किताब*
*किताब*
Dushyant Kumar
जीवन के बसंत
जीवन के बसंत
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
ले चल साजन
ले चल साजन
Lekh Raj Chauhan
3251.*पूर्णिका*
3251.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
किसी को दिल में बसाना बुरा तो नहीं
किसी को दिल में बसाना बुरा तो नहीं
Ram Krishan Rastogi
रात के सितारे
रात के सितारे
Neeraj Agarwal
जीवन में ईमानदारी, सहजता और सकारात्मक विचार कभीं मत छोड़िए य
जीवन में ईमानदारी, सहजता और सकारात्मक विचार कभीं मत छोड़िए य
Damodar Virmal | दामोदर विरमाल
ईश्वर ने तो औरतों के लिए कोई अलग से जहां बनाकर नहीं भेजा। उस
ईश्वर ने तो औरतों के लिए कोई अलग से जहां बनाकर नहीं भेजा। उस
Annu Gurjar
स्मृति शेष अटल
स्मृति शेष अटल
कार्तिक नितिन शर्मा
दर्द उसे होता है
दर्द उसे होता है
Harminder Kaur
बिन बुलाए कभी जो ना जाता कही
बिन बुलाए कभी जो ना जाता कही
कृष्णकांत गुर्जर
नवल प्रभात में धवल जीत का उज्ज्वल दीप वो जला गया।
नवल प्रभात में धवल जीत का उज्ज्वल दीप वो जला गया।
Neelam Sharma
चलो चलाए रेल।
चलो चलाए रेल।
Vedha Singh
खुदाया करम इन पे इतना ही करना।
खुदाया करम इन पे इतना ही करना।
सत्य कुमार प्रेमी
मकरंद
मकरंद
विनोद वर्मा ‘दुर्गेश’
World Hypertension Day
World Hypertension Day
Tushar Jagawat
*प्राण-प्रतिष्ठा (दोहे)*
*प्राण-प्रतिष्ठा (दोहे)*
Ravi Prakash
"चांद पे तिरंगा"
राकेश चौरसिया
Loading...