Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
7 Apr 2024 · 1 min read

“बन्धन”

“बन्धन”
भागत फिरत कहाँ जात हौ
ये रंग नहीं है चोरी का,
ठहर जाओ री बालमवा
ये बन्धन प्रेम की डोरी का.

1 Like · 1 Comment · 50 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr. Kishan tandon kranti
View all
You may also like:
हाथों में गुलाब🌹🌹
हाथों में गुलाब🌹🌹
Chunnu Lal Gupta
माफ करना, कुछ मत कहना
माफ करना, कुछ मत कहना
gurudeenverma198
लंका दहन
लंका दहन
Paras Nath Jha
आज हमने उनके ऊपर कुछ लिखने की कोशिश की,
आज हमने उनके ऊपर कुछ लिखने की कोशिश की,
Vishal babu (vishu)
मायड़ भौम रो सुख
मायड़ भौम रो सुख
लक्की सिंह चौहान
इंद्रधनुषी प्रेम
इंद्रधनुषी प्रेम
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
".... कौन है "
Aarti sirsat
यदि आप नंगे है ,
यदि आप नंगे है ,
शेखर सिंह
यहा हर इंसान दो चहरे लिए होता है,
यहा हर इंसान दो चहरे लिए होता है,
Happy sunshine Soni
अपने अपने कटघरे हैं
अपने अपने कटघरे हैं
Shivkumar Bilagrami
ऊपर चढ़ता देख तुम्हें, मुमकिन मेरा खुश हो जाना।
ऊपर चढ़ता देख तुम्हें, मुमकिन मेरा खुश हो जाना।
सत्य कुमार प्रेमी
2571.पूर्णिका
2571.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
पूरी कर  दी  आस  है, मोदी  की  सरकार
पूरी कर दी आस है, मोदी की सरकार
Anil Mishra Prahari
विषय – मौन
विषय – मौन
DR ARUN KUMAR SHASTRI
ଅହଙ୍କାର
ଅହଙ୍କାର
Bidyadhar Mantry
छुट्टी का इतवार( बाल कविता )
छुट्टी का इतवार( बाल कविता )
Ravi Prakash
फादर्स डे
फादर्स डे
Dr. Pradeep Kumar Sharma
बड़े ही फक्र से बनाया है
बड़े ही फक्र से बनाया है
VINOD CHAUHAN
कलानिधि
कलानिधि
Raju Gajbhiye
उम्मीद -ए- दिल
उम्मीद -ए- दिल
Shyam Sundar Subramanian
एक कतरा प्यार
एक कतरा प्यार
Srishty Bansal
कमाई / MUSAFIR BAITHA
कमाई / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
मैं नही चाहती किसी के जैसे बनना
मैं नही चाहती किसी के जैसे बनना
ruby kumari
पत्थर - पत्थर सींचते ,
पत्थर - पत्थर सींचते ,
Mahendra Narayan
हम बेजान हैं।
हम बेजान हैं।
Taj Mohammad
दिल में मदद
दिल में मदद
Dr fauzia Naseem shad
हिदायत
हिदायत
Dr. Rajeev Jain
-- तभी तक याद करते हैं --
-- तभी तक याद करते हैं --
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
मेरे दिल की हर इक वो खुशी बन गई
मेरे दिल की हर इक वो खुशी बन गई
कृष्णकांत गुर्जर
बाल कविता: मुन्ने का खिलौना
बाल कविता: मुन्ने का खिलौना
Rajesh Kumar Arjun
Loading...