Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
5 Mar 2023 · 1 min read

बड़ी कालोनियों में, द्वार पर बैठा सिपाही है (हिंदी गजल/ गीति

बड़ी कालोनियों में, द्वार पर बैठा सिपाही है (हिंदी गजल/गीतिका)
============================

बड़ी कालोनियों में, द्वार पर बैठा सिपाही है
यहाँ पर सिर्फ कारों की ही, रहती आवाजाही है (1)

बड़ी कालोनियों में सारी, सड़कें ही चमाचम हैं
यहाँ के पेड़-पौधे, क्यारियाँ हर चीज शाही है (2)

अजब-सा एक सन्नाटा है, मिल जो जाए कोई तो
नमस्ते तक नहीं होती, यही जन्नत तो चाही है (3)

पड़ोसी था हमारा ही, कई वर्षों से रहता था
दिखा तो समझा मैं यों ही, टहलता कोई राही है (4)

यहाँ पर हाय-हैलो बस, दिखावे की ही चलती है
यहाँ संबंध थोड़ा – भी, बढ़ाने की मनाही है (5))
—————————
रचयिता :रवि प्रकाश
बाजार सर्राफा, रामपुर (उत्तर प्रदेश)
मोबाइल 99976 15451

114 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Ravi Prakash
View all
You may also like:
यदि केवल बातों से वास्ता होता तो
यदि केवल बातों से वास्ता होता तो
Keshav kishor Kumar
बात बनती हो जहाँ,  बात बनाए रखिए ।
बात बनती हो जहाँ, बात बनाए रखिए ।
Rajesh Tiwari
मित्रता
मित्रता
Shashi kala vyas
बहारें तो आज भी आती हैं
बहारें तो आज भी आती हैं
Ritu Asooja
There's nothing wrong with giving up on trying to find the a
There's nothing wrong with giving up on trying to find the a
पूर्वार्थ
"साहस"
Dr. Kishan tandon kranti
आँखें
आँखें
लक्ष्मी सिंह
मुझे तुझसे महब्बत है, मगर मैं कह नहीं सकता
मुझे तुझसे महब्बत है, मगर मैं कह नहीं सकता
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
मतदान
मतदान
Kanchan Khanna
इस दरिया के पानी में जब मिला,
इस दरिया के पानी में जब मिला,
Sahil Ahmad
घर-घर एसी लग रहे, बढ़ा धरा का ताप।
घर-घर एसी लग रहे, बढ़ा धरा का ताप।
डॉ.सीमा अग्रवाल
*जो कहता है कहने दो*
*जो कहता है कहने दो*
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
पिता का साया
पिता का साया
Neeraj Agarwal
दोस्ती में लोग एक दूसरे की जी जान से मदद करते हैं
दोस्ती में लोग एक दूसरे की जी जान से मदद करते हैं
ruby kumari
#हृदय_दिवस_पर
#हृदय_दिवस_पर
*Author प्रणय प्रभात*
गणपति स्तुति
गणपति स्तुति
Dr Archana Gupta
धर्म बनाम धर्मान्ध
धर्म बनाम धर्मान्ध
Ramswaroop Dinkar
तुम अपने धुन पर नाचो
तुम अपने धुन पर नाचो
DrLakshman Jha Parimal
भाईदूज
भाईदूज
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
जितना आपके पास उपस्थित हैं
जितना आपके पास उपस्थित हैं
Aarti sirsat
इरादा हो अगर पक्का सितारे तोड़ लाएँ हम
इरादा हो अगर पक्का सितारे तोड़ लाएँ हम
आर.एस. 'प्रीतम'
किसी के साथ दोस्ती करना और दोस्ती को निभाना, किसी से मुस्कुर
किसी के साथ दोस्ती करना और दोस्ती को निभाना, किसी से मुस्कुर
Anand Kumar
ख़ुद को यूं ही
ख़ुद को यूं ही
Dr fauzia Naseem shad
*हमारे कन्हैया*
*हमारे कन्हैया*
Dr. Vaishali Verma
3256.*पूर्णिका*
3256.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
खूब ठहाके लगा के बन्दे !
खूब ठहाके लगा के बन्दे !
Akash Yadav
नेपालीको गर्व(Pride of Nepal)
नेपालीको गर्व(Pride of Nepal)
Sidhartha Mishra
अरबपतियों की सूची बेलगाम
अरबपतियों की सूची बेलगाम
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
शर्म शर्म आती है मुझे ,
शर्म शर्म आती है मुझे ,
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
*रे इन्सा क्यों करता तकरार* मानव मानव भाई भाई,
*रे इन्सा क्यों करता तकरार* मानव मानव भाई भाई,
Dushyant Kumar
Loading...