Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
18 Oct 2022 · 1 min read

बगिया का गुलाब प्यारा…

बगिया का गुलाब प्यारा
खुशबू और सौंदर्य में न्यारा
ठंडी ठंडी बहती ब्यार
वातावरण सुखद दमदार
गर्मी और सर्दी में न्यारा
बगिया का गुलाब प्यारा
भौरों की गुंजन, चिड़ियों का चहचहाना
कलियों का यूहीं मुस्काना
सुबह-सुबह राहगीरों का आना
मन प्रसन्नता से भर जाना
कैसे भूले उन यादों के घरौंदे
जो है सुंदर और सौंधे-सौंधे
ज्वाहर को प्यारा था गुलाब
आनंद भवन लगे थे गुलाब
मानव प्रकृति से करता प्यार
याद आता है ‘ अंजुम’ प्यारा गुलाब

नाम-मनमोहन लाल गुप्ता
मोहल्ला जाब्तागंज, नजीबाबाद, बिजनौर, यूपी
मोबाइल नंबर 9927140483

Language: Hindi
1 Like · 219 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from मनमोहन लाल गुप्ता 'अंजुम'
View all
You may also like:
*खो दिया सुख चैन तेरी चाह मे*
*खो दिया सुख चैन तेरी चाह मे*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
" आज़ का आदमी "
Chunnu Lal Gupta
#मुक्तक
#मुक्तक
*Author प्रणय प्रभात*
यक्ष प्रश्न
यक्ष प्रश्न
Shyam Sundar Subramanian
विजया दशमी की हार्दिक बधाई शुभकामनाएं 🎉🙏
विजया दशमी की हार्दिक बधाई शुभकामनाएं 🎉🙏
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
*चैतन्य एक आंतरिक ऊर्जा*
*चैतन्य एक आंतरिक ऊर्जा*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
स्वातंत्र्य का अमृत महोत्सव
स्वातंत्र्य का अमृत महोत्सव
surenderpal vaidya
गैरो को कोई अपने बना कर तो देख ले
गैरो को कोई अपने बना कर तो देख ले
कृष्णकांत गुर्जर
तुम्हारी सादगी ही कत्ल करती है मेरा,
तुम्हारी सादगी ही कत्ल करती है मेरा,
Vishal babu (vishu)
गौतम बुद्ध है बड़े महान
गौतम बुद्ध है बड़े महान
Buddha Prakash
उसकी बेहिसाब नेमतों का कोई हिसाब नहीं
उसकी बेहिसाब नेमतों का कोई हिसाब नहीं
shabina. Naaz
जीवन की आपाधापी में, न जाने सब क्यों छूटता जा रहा है।
जीवन की आपाधापी में, न जाने सब क्यों छूटता जा रहा है।
Gunjan Tiwari
मिसरे जो मशहूर हो गये- राना लिधौरी
मिसरे जो मशहूर हो गये- राना लिधौरी
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
राम लला
राम लला
Satyaveer vaishnav
मुक्तक
मुक्तक
डॉक्टर रागिनी
लक्ष्य जितना बड़ा होगा उपलब्धि भी उतनी बड़ी होगी।
लक्ष्य जितना बड़ा होगा उपलब्धि भी उतनी बड़ी होगी।
Paras Nath Jha
🐍भुजंगी छंद🐍 विधान~ [यगण यगण यगण+लघु गुरु] ( 122 122 122 12 11वर्ण,,4 चरण दो-दो चरण समतुकांत]
🐍भुजंगी छंद🐍 विधान~ [यगण यगण यगण+लघु गुरु] ( 122 122 122 12 11वर्ण,,4 चरण दो-दो चरण समतुकांत]
Neelam Sharma
2480.पूर्णिका
2480.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
ऊपर बने रिश्ते
ऊपर बने रिश्ते
विजय कुमार अग्रवाल
*किसकी है यह भूमि सब ,किसकी कोठी कार (कुंडलिया)*
*किसकी है यह भूमि सब ,किसकी कोठी कार (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
"ऐसा करें कुछ"
Dr. Kishan tandon kranti
मेरा और उसका अब रिश्ता ना पूछो।
मेरा और उसका अब रिश्ता ना पूछो।
शिव प्रताप लोधी
तुम्हारे इंतिज़ार में ........
तुम्हारे इंतिज़ार में ........
sushil sarna
सुकून
सुकून
Er. Sanjay Shrivastava
मसरूफियत बढ़ गई है
मसरूफियत बढ़ गई है
Harminder Kaur
Little Things
Little Things
Dhriti Mishra
तो अब यह सोचा है मैंने
तो अब यह सोचा है मैंने
gurudeenverma198
बस मुझे महसूस करे
बस मुझे महसूस करे
Pratibha Pandey
संवेदनायें
संवेदनायें
Dr.Pratibha Prakash
चाय और सिगरेट
चाय और सिगरेट
आकाश महेशपुरी
Loading...