Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
23 May 2024 · 1 min read

प्यार हमें

प्यार हमें
——–
प्यार हमें हमारे वतन से है
मोहब्बत प्यारे चमन से है
इश्क़ की हद मत पूछो दोस्त
दिल में लगी लगन से है
शमा परवीन

Language: Hindi
2 Likes · 31 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
दोहा
दोहा
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
दुःख,दिक्कतें औ दर्द  है अपनी कहानी में,
दुःख,दिक्कतें औ दर्द है अपनी कहानी में,
सिद्धार्थ गोरखपुरी
आशा की किरण
आशा की किरण
Neeraj Agarwal
दोहा- मीन-मेख
दोहा- मीन-मेख
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
अब हक़ीक़त
अब हक़ीक़त
Dr fauzia Naseem shad
संस्कारों को भूल रहे हैं
संस्कारों को भूल रहे हैं
VINOD CHAUHAN
हमेशा..!!
हमेशा..!!
'अशांत' शेखर
अजीब हालत है मेरे दिल की
अजीब हालत है मेरे दिल की
Phool gufran
भाई बहन का प्रेम
भाई बहन का प्रेम
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
"Looking up at the stars, I know quite well
पूर्वार्थ
जितनी तेजी से चढ़ते हैं
जितनी तेजी से चढ़ते हैं
Dheerja Sharma
रिश्ते
रिश्ते
Mangilal 713
बांध रखा हूं खुद को,
बांध रखा हूं खुद को,
Shubham Pandey (S P)
सीखा दे ना सबक ऐ जिंदगी अब तो, लोग हमको सिर्फ मतलब के लिए या
सीखा दे ना सबक ऐ जिंदगी अब तो, लोग हमको सिर्फ मतलब के लिए या
Rekha khichi
मिले
मिले
DR. Kaushal Kishor Shrivastava
एक पुष्प
एक पुष्प
हिमांशु बडोनी (दयानिधि)
इस कदर भीगा हुआ हूँ
इस कदर भीगा हुआ हूँ
Dr. Rajeev Jain
भारत अपना देश
भारत अपना देश
प्रदीप कुमार गुप्ता
कौन है वो .....
कौन है वो .....
sushil sarna
समय
समय
Paras Nath Jha
#लघु_कविता
#लघु_कविता
*प्रणय प्रभात*
।। अछूत ।।
।। अछूत ।।
साहित्य गौरव
21-रूठ गई है क़िस्मत अपनी
21-रूठ गई है क़िस्मत अपनी
Ajay Kumar Vimal
कैसे अम्बर तक जाओगे
कैसे अम्बर तक जाओगे
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
दिखता अगर फ़लक पे तो हम सोचते भी कुछ
दिखता अगर फ़लक पे तो हम सोचते भी कुछ
Shweta Soni
अहंकार अभिमान रसातल की, हैं पहली सीढ़ी l
अहंकार अभिमान रसातल की, हैं पहली सीढ़ी l
Shyamsingh Lodhi Rajput (Tejpuriya)
*बुरे फँसे सहायता लेकर 【हास्य व्यंग्य】*
*बुरे फँसे सहायता लेकर 【हास्य व्यंग्य】*
Ravi Prakash
आज हम जा रहे थे, और वह आ रही थी।
आज हम जा रहे थे, और वह आ रही थी।
SPK Sachin Lodhi
चुनाव
चुनाव
Dr. Pradeep Kumar Sharma
23/211. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/211. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
Loading...