Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
13 Nov 2023 · 1 min read

परम प्रकाश उत्सव कार्तिक मास

कार्तिक मास दीपदान का, पावन एक सुअवसर है
अंतस का अंधकार मिटाने, परम प्रकाश उत्सव है
हे दिव्य दीप ज्योति नमन, प्रज्वलित कर तुम्हें ध्याऊं
गंगा यमुना सरस्वती, संगम में दीप जलाऊं
सिंधु गोदावरी कावेरी, ब्रह्मपुत्र सरयू आऊं
हे दीपज्योति मैं तुम्हें छोड़ने, क्षिप्रा महानदी जाऊं
नर्मदा गोमती वेत्रवती,ताप्ती सोन मंदाकिनी
भुक्ति मुक्ति मोक्ष दायनी
हर पावन सर सरिता तट, मैं पावन दीप जलाऊं
करना सबका मंगल ज्योति, सबका मार्ग प्रकाशित हो
सारी सृष्टि सुखी रहे, जन जन का दूर अमंगल हो

सुरेश कुमार चतुर्वेदी

Language: Hindi
1 Like · 147 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from सुरेश कुमार चतुर्वेदी
View all
You may also like:
मौज-मस्ती
मौज-मस्ती
Vandna Thakur
आज के युग का सबसे बड़ा दुर्भाग्य ये है
आज के युग का सबसे बड़ा दुर्भाग्य ये है
पूर्वार्थ
मेरी कलम से…
मेरी कलम से…
Anand Kumar
*मतदान*
*मतदान*
Shashi kala vyas
दो वक्त के निवाले ने मजदूर बना दिया
दो वक्त के निवाले ने मजदूर बना दिया
VINOD CHAUHAN
नारी सम्मान
नारी सम्मान
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
हमें याद है ९ बजे रात के बाद एस .टी .डी. बूथ का मंजर ! लम्बी
हमें याद है ९ बजे रात के बाद एस .टी .डी. बूथ का मंजर ! लम्बी
DrLakshman Jha Parimal
गांव में छुट्टियां
गांव में छुट्टियां
Manu Vashistha
चमन
चमन
Bodhisatva kastooriya
बड़े हुए सब चल दिये,
बड़े हुए सब चल दिये,
sushil sarna
A daughter's reply
A daughter's reply
Bidyadhar Mantry
अलबेला अब्र
अलबेला अब्र
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
तुमको वो पा लेगा इतनी आसानी से
तुमको वो पा लेगा इतनी आसानी से
Keshav kishor Kumar
भगवान महाबीर
भगवान महाबीर
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
राष्ट्रीय गणित दिवस
राष्ट्रीय गणित दिवस
Tushar Jagawat
सोशल मीडिया
सोशल मीडिया
Raju Gajbhiye
"मैं एक कलमकार हूँ"
Dr. Kishan tandon kranti
मनुष्य जीवन है अवसर,
मनुष्य जीवन है अवसर,
Ashwini Jha
शराब मुझको पिलाकर तुम,बहकाना चाहते हो
शराब मुझको पिलाकर तुम,बहकाना चाहते हो
gurudeenverma198
A heart-broken Soul.
A heart-broken Soul.
Manisha Manjari
अच्छा बोलने से अगर अच्छा होता,
अच्छा बोलने से अगर अच्छा होता,
Manoj Mahato
"भूल से भी देख लो,
*Author प्रणय प्रभात*
पीने -पिलाने की आदत तो डालो
पीने -पिलाने की आदत तो डालो
सिद्धार्थ गोरखपुरी
* बढ़ेंगे हर कदम *
* बढ़ेंगे हर कदम *
surenderpal vaidya
🍁मंच🍁
🍁मंच🍁
सुरेश अजगल्ले 'इन्द्र '
अंबेडकर के नाम से चिढ़ क्यों?
अंबेडकर के नाम से चिढ़ क्यों?
Shekhar Chandra Mitra
प्यार करने के लिए हो एक छोटी जिंदगी।
प्यार करने के लिए हो एक छोटी जिंदगी।
सत्य कुमार प्रेमी
किसी के दिल में चाह तो ,
किसी के दिल में चाह तो ,
Manju sagar
*छोड़कर जब माँ को जातीं, बेटियाँ ससुराल में ( हिंदी गजल/गीति
*छोड़कर जब माँ को जातीं, बेटियाँ ससुराल में ( हिंदी गजल/गीति
Ravi Prakash
शुभं करोति कल्याणं आरोग्यं धनसंपदा।
शुभं करोति कल्याणं आरोग्यं धनसंपदा।
अनिल "आदर्श"
Loading...