Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
12 Feb 2024 · 1 min read

नेता

राजनीति तो
खलनायकों
का घर है।
नेता बनकर
इनको किसका
डर है।
सत्ता पाकर के
अपराधी बन जाते
नैतिकता वाहक
उनके सर पर
होता इक
कृपानिधान
कल के
मसखरे
बन जाते
महान
लगते
चतुर सुजान
गद्दी को
पाने की
दौड लगी है।
जनता बेचारी
कब पहचान सकी है।

डा. पूनम पांडे

Language: Hindi
3 Likes · 104 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Punam Pande
View all
You may also like:
दोस्तों की महफिल में वो इस कदर खो गए ,
दोस्तों की महफिल में वो इस कदर खो गए ,
Yogendra Chaturwedi
******जय श्री खाटूश्याम जी की*******
******जय श्री खाटूश्याम जी की*******
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
रोला छंद :-
रोला छंद :-
sushil sarna
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
2625.पूर्णिका
2625.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
अंतहीन
अंतहीन
Dr. Rajeev Jain
फूल
फूल
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
प्रेम पत्र बचाने के शब्द-व्यापारी
प्रेम पत्र बचाने के शब्द-व्यापारी
Dr MusafiR BaithA
दो शरारती गुड़िया
दो शरारती गुड़िया
Prabhudayal Raniwal
जब तुम
जब तुम
Dr.Priya Soni Khare
मुझे अंदाज़ है
मुझे अंदाज़ है
हिमांशु Kulshrestha
भारत मां की लाज रखो तुम देश के सर का ताज बनो
भारत मां की लाज रखो तुम देश के सर का ताज बनो
कवि दीपक बवेजा
*खुश रहना है तो जिंदगी के फैसले अपनी परिस्थिति को देखकर खुद
*खुश रहना है तो जिंदगी के फैसले अपनी परिस्थिति को देखकर खुद
Shashi kala vyas
शादी के बाद भी अगर एक इंसान का अपने परिवार के प्रति अतिरेक ज
शादी के बाद भी अगर एक इंसान का अपने परिवार के प्रति अतिरेक ज
पूर्वार्थ
😊अपडेट😊
😊अपडेट😊
*प्रणय प्रभात*
यह तुम्हारी गलत सोच है
यह तुम्हारी गलत सोच है
gurudeenverma198
हास्य कुंडलियाँ
हास्य कुंडलियाँ
Ravi Prakash
सुनो पहाड़ की....!!! (भाग - ७)
सुनो पहाड़ की....!!! (भाग - ७)
Kanchan Khanna
देव उठनी
देव उठनी
विनोद कृष्ण सक्सेना, पटवारी
कुदरत है बड़ी कारसाज
कुदरत है बड़ी कारसाज
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
हिंदी का सम्मान
हिंदी का सम्मान
Arti Bhadauria
"चुम्बकीय शक्ति"
Dr. Kishan tandon kranti
बरसें प्रभुता-मेह...
बरसें प्रभुता-मेह...
डॉ.सीमा अग्रवाल
साकार नहीं होता है
साकार नहीं होता है
हिमांशु बडोनी (दयानिधि)
जीवन में जब विश्वास मर जाता है तो समझ लीजिए
जीवन में जब विश्वास मर जाता है तो समझ लीजिए
प्रेमदास वसु सुरेखा
रिश्ते से बाहर निकले हैं - संदीप ठाकुर
रिश्ते से बाहर निकले हैं - संदीप ठाकुर
Sandeep Thakur
असुर सम्राट भक्त प्रह्लाद – तपोभूमि की यात्रा – 06
असुर सम्राट भक्त प्रह्लाद – तपोभूमि की यात्रा – 06
Kirti Aphale
आ जाओ घर साजना
आ जाओ घर साजना
लक्ष्मी सिंह
छोड़ जाते नही पास आते अगर
छोड़ जाते नही पास आते अगर
कृष्णकांत गुर्जर
साथ मेरे था
साथ मेरे था
Dr fauzia Naseem shad
Loading...