Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
12 Feb 2024 · 1 min read

नहीं मिलते सभी सुख हैं किसी को भी ज़माने में

नहीं मिलते सभी सुख हैं किसी को भी ज़माने में
गुज़ारो ज़िन्दगी चाहे यहाँ सारी कमाने में/1

किसी का ग़म अगर ख़ुद का लगे लगने समझ लो फिर
ख़ुशी बढ़ने चली सुनलो तेरे दिल के ख़ज़ाने में/2

आर.एस. ‘प्रीतम’

2 Likes · 24 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from आर.एस. 'प्रीतम'
View all
You may also like:
🧟☠️अमावस की रात☠️🧟
🧟☠️अमावस की रात☠️🧟
SPK Sachin Lodhi
*करो योग-व्यायाम, दाल-रोटी नित खाओ (कुंडलिया)*
*करो योग-व्यायाम, दाल-रोटी नित खाओ (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
ग़ज़ल
ग़ज़ल
प्रीतम श्रावस्तवी
लोगबाग जो संग गायेंगे होली में
लोगबाग जो संग गायेंगे होली में
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
नारी शक्ति..................
नारी शक्ति..................
Surya Barman
ये मौसम ,हाँ ये बादल, बारिश, हवाएं, सब कह रहे हैं कितना खूबस
ये मौसम ,हाँ ये बादल, बारिश, हवाएं, सब कह रहे हैं कितना खूबस
Swara Kumari arya
हंस के 2019 वर्ष-अंत में आए दलित विशेषांकों का एक मुआयना / musafir baitha
हंस के 2019 वर्ष-अंत में आए दलित विशेषांकों का एक मुआयना / musafir baitha
Dr MusafiR BaithA
मेरा फलसफा
मेरा फलसफा
umesh mehra
हरषे धरती बरसे मेघा...
हरषे धरती बरसे मेघा...
Harminder Kaur
यह जो तुम बांधती हो पैरों में अपने काला धागा ,
यह जो तुम बांधती हो पैरों में अपने काला धागा ,
श्याम सिंह बिष्ट
मुझे नहीं नभ छूने का अभिलाष।
मुझे नहीं नभ छूने का अभिलाष।
Anil Mishra Prahari
उस रावण को मारो ना
उस रावण को मारो ना
VINOD CHAUHAN
🌷ज़िंदगी के रंग🌷
🌷ज़िंदगी के रंग🌷
पंकज कुमार कर्ण
मिलना हम मिलने आएंगे होली में।
मिलना हम मिलने आएंगे होली में।
सत्य कुमार प्रेमी
She never apologized for being a hopeless romantic, and endless dreamer.
She never apologized for being a hopeless romantic, and endless dreamer.
Manisha Manjari
आधा किस्सा आधा फसाना रह गया
आधा किस्सा आधा फसाना रह गया
ठाकुर प्रतापसिंह "राणाजी"
कबीरा हुआ दीवाना
कबीरा हुआ दीवाना
Shekhar Chandra Mitra
अंगारों को हवा देते हैं. . .
अंगारों को हवा देते हैं. . .
sushil sarna
*जब हो जाता है प्यार किसी से*
*जब हो जाता है प्यार किसी से*
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
शिव स्तुति
शिव स्तुति
मनोज कर्ण
जिंदगी जब जब हमें
जिंदगी जब जब हमें
ruby kumari
तन पर हल्की  सी धुल लग जाए,
तन पर हल्की सी धुल लग जाए,
Shutisha Rajput
गुजरे वक्त के सबक से
गुजरे वक्त के सबक से
Dimpal Khari
जिस प्रकार लोहे को सांचे में ढालने पर उसका  आकार बदल  जाता ह
जिस प्रकार लोहे को सांचे में ढालने पर उसका आकार बदल जाता ह
Jitendra kumar
लोग दुर चले जाते पर,
लोग दुर चले जाते पर,
Radha jha
💐प्रेम कौतुक-269💐
💐प्रेम कौतुक-269💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
बाल-कविता: 'मम्मी-पापा'
बाल-कविता: 'मम्मी-पापा'
आर.एस. 'प्रीतम'
दूसरों को देते हैं ज्ञान
दूसरों को देते हैं ज्ञान
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
🩸🔅🔅बिंदी🔅🔅🩸
🩸🔅🔅बिंदी🔅🔅🩸
Dr. Vaishali Verma
Expectation is the
Expectation is the
Shyam Sundar Subramanian
Loading...