Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
4 May 2023 · 1 min read

नरसिंह अवतार

“नरसिंह अवतार”
विष्णु जी का रूप धारण नरसिंह जी लिए अवतार।
प्रहलाद की भक्तिज्ञान विजय की हो जय जय जयकार।
सच्चाई की विजय पथ पर मानव अपने मन मे उतार।
पूरे विश्व में हाहाकार मचा संकट से अब तो हमें उबार।
हे नरसिंह फिर से अब प्रगट भयो सहस्त्र बाहु भुजा से जीवन तार।
शक्ति शौर्य का प्रतीक आधा नर आधा सिंह स्वरूप अवतार।
मानवता अब थर थर कांपती कोरोना वायरस का ये आंतक प्रहार।
अपने अपनों से दूर हो गए इधर उधर फिरता मन अब घर बैठे जग संसार।
कोरोना के इस द्वंद्व युद्ध में भयावह स्थिति देख अब आओ नरसिंह देव पालनहार।
सहस्त्र बाहु भुजाओं से संकट मुक्त अभयदान दो यही करुण पुकार।
शशिकला व्यास✍️

Language: Hindi
1 Like · 512 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
बदी करने वाले भी
बदी करने वाले भी
Satish Srijan
आकलन करने को चाहिए सही तंत्र
आकलन करने को चाहिए सही तंत्र
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
भोर
भोर
Kanchan Khanna
जज्बे का तूफान
जज्बे का तूफान
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
23/26.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/26.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
बह्र -212 212 212 212 अरकान-फ़ाईलुन फ़ाईलुन फ़ाईलुन फ़ाईलुन काफ़िया - आना रदीफ़ - पड़ा
बह्र -212 212 212 212 अरकान-फ़ाईलुन फ़ाईलुन फ़ाईलुन फ़ाईलुन काफ़िया - आना रदीफ़ - पड़ा
Neelam Sharma
नैतिकता का इतना
नैतिकता का इतना
Dr fauzia Naseem shad
*पद्म विभूषण स्वर्गीय गुलाम मुस्तफा खान साहब से दो मुलाकातें*
*पद्म विभूषण स्वर्गीय गुलाम मुस्तफा खान साहब से दो मुलाकातें*
Ravi Prakash
माता शबरी
माता शबरी
SHAILESH MOHAN
आखिरी मोहब्बत
आखिरी मोहब्बत
Shivkumar barman
कठिनाईयां देखते ही डर जाना और इससे उबरने के लिए कोई प्रयत्न
कठिनाईयां देखते ही डर जाना और इससे उबरने के लिए कोई प्रयत्न
Paras Nath Jha
सियासत में आकर।
सियासत में आकर।
Taj Mohammad
अबोध अंतस....
अबोध अंतस....
Santosh Soni
कसौटी
कसौटी
Astuti Kumari
मजबूरन पैसे के खातिर तन यौवन बिकते देखा।
मजबूरन पैसे के खातिर तन यौवन बिकते देखा।
सत्य कुमार प्रेमी
योगी?
योगी?
Sanjay ' शून्य'
बीज और विचित्रताओं पर कुछ बात
बीज और विचित्रताओं पर कुछ बात
Dr MusafiR BaithA
कत्ल खुलेआम
कत्ल खुलेआम
Diwakar Mahto
खुद ही खुद से इश्क कर, खुद ही खुद को जान।
खुद ही खुद से इश्क कर, खुद ही खुद को जान।
विमला महरिया मौज
नारी अस्मिता
नारी अस्मिता
Shyam Sundar Subramanian
*🌸बाजार *🌸
*🌸बाजार *🌸
Mahima shukla
विचार
विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
फूल
फूल
Neeraj Agarwal
Maybe the reason I'm no longer interested in being in love i
Maybe the reason I'm no longer interested in being in love i
पूर्वार्थ
पापा
पापा
Lovi Mishra
जब तू मिलती है
जब तू मिलती है
gurudeenverma198
'ऐन-ए-हयात से बस एक ही बात मैंने सीखी है साकी,
'ऐन-ए-हयात से बस एक ही बात मैंने सीखी है साकी,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
#ग़ज़ल-
#ग़ज़ल-
*प्रणय प्रभात*
"ഓണാശംസകളും ആശംസകളും"
DrLakshman Jha Parimal
तुम चाहो तो मुझ से मेरी जिंदगी ले लो
तुम चाहो तो मुझ से मेरी जिंदगी ले लो
shabina. Naaz
Loading...