Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#29 Trending Author
Feb 2, 2017 · 1 min read

तेरी सूरत

जहाँ भी देखता हूँ , इस “जहाँ” में तेरी सूरत नज़र आती है,
तेरी सूरत में इस “ जहाँ ” की सारी खुशियाँ नज़र आती है ,

तेरी एक नज़र ने मुझको किस मुकाम पर ला दिया ?
खुद “शमां” में जलकर रोशनी के समंदर में बिठा दिया,
तूफानों के बीच प्यार का दीपक मेरे हाथ में जला दिया ,
मेरी डूबती नैय्या को इस “जहाँ के मांझी” से मिला दिया I

जहाँ भी देखता हूँ, इस “जहाँ” में तेरी सूरत नज़र आती है,
तेरी एक नज़र से बिगड़ी हुई तक़दीर भी संवर जाती है ,

“ राज ” को नहीं था, अब तक यह भान ,
अब वो न रहा वह इस राज से अनजान ,
छणभंगुर जीवन पर था उसे बहुत अभिमान ,
तेरी सूरत के सामने चूर हो गया मेरा गुमान ,
“परम पिता ” की सूरत को गया अब पहचान I

जहाँ भी देखता हूँ, इस “जहाँ” में तेरी सूरत नज़र आती है,
इस सूरत में जगत के पालनहार की तस्वीर नज़र आती है I

देशराज “राज”

567 Views
You may also like:
इस तरह
Dr fauzia Naseem shad
हक़ीक़त सभी ख़्वाब
Dr fauzia Naseem shad
अहंकार
AMRESH KUMAR VERMA
लफ़्ज़ों में ढूंढते रहे
Dr fauzia Naseem shad
आशाओं के दीप.....
Chandra Prakash Patel
✍️बहन भाई की सलामती चाहती है✍️
'अशांत' शेखर
मोहब्बत की दर्द- ए- दास्ताँ
Jyoti Khari
गुरु के अनेक रूप
ओनिका सेतिया 'अनु '
मोहब्बत।
Taj Mohammad
बुंदेली दोहे
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
जितनी बार निहारा उसको
Shivkumar Bilagrami
"हर घर तिरंगा"देश भक्ती गीत
rubichetanshukla रुबी चेतन शुक्ला
फौजी बनना कहाँ आसान है
Anamika Singh
नहीं हंसी का खेल
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
परिवार
Dr Meenu Poonia
मैं मजदूर हूँ!
Anamika Singh
फूलो की कहानी,मेरी जुबानी
Anamika Singh
हवा-बतास
आकाश महेशपुरी
उम्मीद है कि वो मुझे .....।
J_Kay Chhonkar
रे बाबा कितना मुश्किल है गाड़ी चलाना
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
ऋतुराज का हुआ शुभारंभ
Vishnu Prasad 'panchotiya'
शायरी
श्याम सिंह बिष्ट
✍️ना तू..! ना मैं...!✍️
'अशांत' शेखर
युद्ध के उन्माद में है
Shivkumar Bilagrami
रसूल ए खुदा।
Taj Mohammad
हे गुरू।
Anamika Singh
अविरल
DR ARUN KUMAR SHASTRI
ख़ुद ही हालात समझने की नज़र देता है,
Aditya Shivpuri
पेशकश पर
Dr fauzia Naseem shad
समय के संग परिवर्तन
AMRESH KUMAR VERMA
Loading...