May 11, 2022 · 1 min read

तेरा पापा… अपने वतन में

पापा की…
लाड़ली बिटिया…
पापा आपके पास ही हैं …!
दुखी मत हुआ कर…
मेरी परी…!
जब तू हँसती है….
मुझे बहुत अच्छी लगली है…!
जब रोती है…
तो…
मेरा दिल भी रोने लगता है…!
तू मुझे याद कर…
पगली….
दुखी रहेगी…!
तो क्या…?
तेरा पापा ठीक रह पायेगा..!
मेरी लाड़ली ….
तू अगर चाहती है…!
तेरा पापा…
अपने वतन में….
खुश व सुखी…
ऒर शान्ति से रह सके…!
तो तुझे…
अपने पापा की सौगन्ध है….!
तू कभी उदास…
या दुखी…
नहीं होगी मेरी बच्ची…!
तू मुझे याद कर….
पर खुशी से…..!
अपने खट्टे- मीठे लम्हें ….
मेरे साथ बाँट…..
अपने और मेरे जन्म दिन पर …..
ख़ुशी से पार्टी कर….!
ऒर….
मुझे भी बुला….
अपनी पार्टी में……!
जब तू खुशी से….
याद करेगी….
मैं सदा तेरे आस-पास ही रहूँगा….!

© डॉ० प्रतिभा ‘माही’

2 Likes · 1 Comment · 27 Views
You may also like:
फूलो की कहानी,मेरी जुबानी
Anamika Singh
अब सुप्त पड़ी मन की मुरली, यह जीवन मध्य फँसा...
संजीव शुक्ल 'सचिन'
संडे की व्यथा
ज्ञानीचोर ज्ञानीचोर
All I want to say is good bye...
Abhineet Mittal
पिता
रिपुदमन झा "पिनाकी"
बहन का जन्मदिन
Khushboo Khatoon
सतुआन
डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
मतदान का दौर
Anamika Singh
क्यों सत अंतस दृश्य नहीं?
AJAY AMITABH SUMAN
पिता –गीतिका
रकमिश सुल्तानपुरी
【29】!!*!! करवाचौथ !!*!!
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
मेरे बेटे ने
Dhirendra Panchal
वो दिन भी बहुत खूबसूरत थे
Krishan Singh
चाँद ने कहा
कुमार अविनाश केसर
युद्ध सिर्फ प्रश्न खड़ा करता है [भाग६]
Anamika Singh
# जीत की तलाश #
Dr. Alpa H.
नेताओं के घर भी बुलडोजर चल जाए
Dr. Kishan Karigar
हम गरीब है साहब।
Taj Mohammad
हर रोज योग करो
Krishan Singh
ममत्व की माँ
Raju Gajbhiye
इंतजार मत करना
Rakesh Pathak Kathara
महान गुरु श्री रामकृष्ण परमहंस की काव्यमय जीवनी (पुस्तक-समीक्षा)
Ravi Prakash
परिवार दिवस
Dr Archana Gupta
मैं
Saraswati Bajpai
My Expressions
Shyam Sundar Subramanian
इशारो ही इशारो से...😊👌
N.ksahu0007@writer
काफ़िर जमाना
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
मै हूं एक मिट्टी का घड़ा
Ram Krishan Rastogi
'आप नहीं आएंगे अब पापा'
alkaagarwal.ag
पंचशील गीत
Buddha Prakash
Loading...