Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
25 Jan 2024 · 1 min read

तुम्हे शिकायत है कि जन्नत नहीं मिली

तुम्हे शिकायत है कि जन्नत नहीं मिली
शुक्र अदा करो जनाब ग़ुरबत नहीं मिली

जो मिला उसी को सम्भाल लो अभी भी
कहते फिरोगे फिर कि फुरसत नहीं मिली

खोजते हो जाने किसको तुम उम्र भर
और शिक़वा भी ये कि चाहत नहीं मिली

बारीकियां तुमने इश्क़ की देखी अभी कहाँ
तुमको तो इश्क़ में कभी ज़िल्लत नहीं मिली

मैं भी नहीं होता इतना तल्ख़ क़सम से
क्या करूँ किसी से नज़ाक़त नहीं मिली

तुझको अपने अक़्स के जैसे पाया अजय
ख़ुद से झूठ कहने की ताक़त नहीं मिली

अजय मिश्र

Language: Hindi
100 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
वेलेंटाइन डे एक व्यवसाय है जिस दिन होटल और बॉटल( शराब) नशा औ
वेलेंटाइन डे एक व्यवसाय है जिस दिन होटल और बॉटल( शराब) नशा औ
Rj Anand Prajapati
आपकी यादें
आपकी यादें
लोकेश शर्मा 'अवस्थी'
वो अनुराग अनमोल एहसास
वो अनुराग अनमोल एहसास
Seema gupta,Alwar
न किजिए कोशिश हममें, झांकने की बार-बार।
न किजिए कोशिश हममें, झांकने की बार-बार।
ओसमणी साहू 'ओश'
कहने की कोई बात नहीं है
कहने की कोई बात नहीं है
Suryakant Dwivedi
- फुर्सत -
- फुर्सत -
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
अतीत
अतीत
Mrs PUSHPA SHARMA {पुष्पा शर्मा अपराजिता}
भोर समय में
भोर समय में
surenderpal vaidya
तपन ने सबको छुआ है / गर्मी का नवगीत
तपन ने सबको छुआ है / गर्मी का नवगीत
ईश्वर दयाल गोस्वामी
नवरात्रि के चौथे दिन देवी दुर्गा के कूष्मांडा स्वरूप की पूजा
नवरात्रि के चौथे दिन देवी दुर्गा के कूष्मांडा स्वरूप की पूजा
Shashi kala vyas
मन्नत के धागे
मन्नत के धागे
Dr. Mulla Adam Ali
बददुआ देना मेरा काम नहीं है,
बददुआ देना मेरा काम नहीं है,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
लोग आपके प्रसंसक है ये आपकी योग्यता है
लोग आपके प्रसंसक है ये आपकी योग्यता है
Ranjeet kumar patre
आत्मसंवाद
आत्मसंवाद
Shyam Sundar Subramanian
याद रखते अगर दुआओ में
याद रखते अगर दुआओ में
Dr fauzia Naseem shad
शहीदे आजम भगत सिंह की जीवन यात्रा
शहीदे आजम भगत सिंह की जीवन यात्रा
Ravi Yadav
पैसा अगर पास हो तो
पैसा अगर पास हो तो
शेखर सिंह
मा शारदा
मा शारदा
भरत कुमार सोलंकी
संगठन
संगठन
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
जब भी तेरा दिल में ख्याल आता है
जब भी तेरा दिल में ख्याल आता है
Ram Krishan Rastogi
Thought
Thought
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
जाते हो.....❤️
जाते हो.....❤️
Srishty Bansal
*अहिल्या (कुंडलिया)*
*अहिल्या (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
अब किसी की याद पर है नुक़्ता चीनी
अब किसी की याद पर है नुक़्ता चीनी
Sarfaraz Ahmed Aasee
झुंड
झुंड
Rekha Drolia
2358.पूर्णिका
2358.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
टूटने का मर्म
टूटने का मर्म
Surinder blackpen
मम्मास बेबी
मम्मास बेबी
Dr. Pradeep Kumar Sharma
#लघु_दास्तान
#लघु_दास्तान
*प्रणय प्रभात*
मैं अकेली हूँ...
मैं अकेली हूँ...
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
Loading...