Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
2 Feb 2024 · 1 min read

झोली मेरी प्रेम की

शब्द है मौन
और
मौन है मुखर

प्रीत की डोर
का
माप है प्रचुर

भाव का वेग
बस
बांध से डटा

शांत है सतह
पर
भीतर ज्वार है बहुत

कल्पना के पार
की
मिसाल तुम अथक

झोली मेरी प्रेम
की
लबालब सहज

बरस दर बरस
बीते
आनंद के घटक

आते हरेक पल
भी
खुशी हर कदम

संदीप पांडे”शिष्य” अजमेर

Language: Hindi
3 Likes · 80 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Sandeep Pande
View all
You may also like:
हे चाणक्य चले आओ
हे चाणक्य चले आओ
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
*प्यार भी अजीब है (शिव छंद )*
*प्यार भी अजीब है (शिव छंद )*
Rituraj shivem verma
उसकी एक नजर
उसकी एक नजर
साहिल
बदी करने वाले भी
बदी करने वाले भी
Satish Srijan
जीवन तुम्हें जहां ले जाए तुम निर्भय होकर जाओ
जीवन तुम्हें जहां ले जाए तुम निर्भय होकर जाओ
Ms.Ankit Halke jha
■ बड़ा सवाल ■
■ बड़ा सवाल ■
*Author प्रणय प्रभात*
मुस्कुराना चाहते हो
मुस्कुराना चाहते हो
surenderpal vaidya
आधुनिक युग में हम सभी जानते हैं।
आधुनिक युग में हम सभी जानते हैं।
Neeraj Agarwal
" हम तो हारे बैठे हैं "
भगवती प्रसाद व्यास " नीरद "
जय प्रकाश
जय प्रकाश
Jay Dewangan
वह एक हीं फूल है
वह एक हीं फूल है
Shweta Soni
कोई ना होता है अपना माँ के सिवा
कोई ना होता है अपना माँ के सिवा
Basant Bhagawan Roy
अंधेरे के आने का खौफ,
अंधेरे के आने का खौफ,
Buddha Prakash
भगवान सर्वव्यापी हैं ।
भगवान सर्वव्यापी हैं ।
ओनिका सेतिया 'अनु '
वफ़ा का इनाम तेरे प्यार की तोहफ़े में है,
वफ़ा का इनाम तेरे प्यार की तोहफ़े में है,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
मगर अब मैं शब्दों को निगलने लगा हूँ
मगर अब मैं शब्दों को निगलने लगा हूँ
VINOD CHAUHAN
"बोलती आँखें"
पंकज कुमार कर्ण
आखिर कब तक?
आखिर कब तक?
Pratibha Pandey
2317.पूर्णिका
2317.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
नारी शक्ति
नारी शक्ति
भरत कुमार सोलंकी
मनुख
मनुख
श्रीहर्ष आचार्य
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
जन्मदिन तुम्हारा!
जन्मदिन तुम्हारा!
bhandari lokesh
उद् 🌷गार इक प्यार का
उद् 🌷गार इक प्यार का
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
सादगी तो हमारी जरा……देखिए
सादगी तो हमारी जरा……देखिए
shabina. Naaz
"मन-मतंग"
Dr. Kishan tandon kranti
तलाक़ का जश्न…
तलाक़ का जश्न…
Anand Kumar
स्कूल जाना है
स्कूल जाना है
SHAMA PARVEEN
अभी तो वो खफ़ा है लेकिन
अभी तो वो खफ़ा है लेकिन
gurudeenverma198
*जिंदगी  जीने  का नाम है*
*जिंदगी जीने का नाम है*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
Loading...