Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
9 Jul 2023 · 1 min read

जुनून

डॉ अरुण कुमार शास्त्री – एक अबोध बालक – अरुण अतृप्त

* जुनून *

मेरी फितरत मरेगी तो
मेरा जुनून भी जाएगा मर ।
तूझे प्यार करना होगा
मुझसे इन्हीं हालात में
मैं जैसा हूँ मेरी जाने जिगर ।
बदल जाना तो बहुत आसां हैं
बदल जाते हैं लोग आसानी से ।
मेरी फितरत मरेगी तो
मेरा जुनून भी जाएगा मर ।
सिखाया है मुझे मेरे वालदेन ने ।
बदलते हालात में बदलना मत ।
बनूँगा हीरो से जीरो मैं
मिरी किस्मत भी बदल जाएगी ।
मेरी फितरत मरेगी तो
मेरा जुनून भी जाएगा मर ।
अरे वो आदमी कैसा ,
जो पल – पल में बदल जाए ।
भरे हो रंग गिरगिट के ।
और तूफ़ान से डर जाए ।
मिरी फितरत ही तो
मेरी इकलौती पहचान है जग में ।
मेरी फितरत मरेगी तो
मेरा जुनून भी जाएगा मर ।

3 Likes · 190 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from DR ARUN KUMAR SHASTRI
View all
You may also like:
हाइकु शतक (हाइकु संग्रह)
हाइकु शतक (हाइकु संग्रह)
Dr. Pradeep Kumar Sharma
"आपका वोट"
Dr. Kishan tandon kranti
उसको ख़ुद से ही ये गिला होगा ।
उसको ख़ुद से ही ये गिला होगा ।
Neelam Sharma
वाह मेरा देश किधर जा रहा है!
वाह मेरा देश किधर जा रहा है!
कृष्ण मलिक अम्बाला
वह सिर्फ पिता होता है
वह सिर्फ पिता होता है
Dinesh Gupta
मैं जी रहा हूँ जिंदगी, ऐ वतन तेरे लिए
मैं जी रहा हूँ जिंदगी, ऐ वतन तेरे लिए
gurudeenverma198
मात -पिता पुत्र -पुत्री
मात -पिता पुत्र -पुत्री
DrLakshman Jha Parimal
*अज्ञानी की कलम  *शूल_पर_गीत*
*अज्ञानी की कलम *शूल_पर_गीत*
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी
2448.पूर्णिका
2448.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
दासी
दासी
Bodhisatva kastooriya
सरकार हैं हम
सरकार हैं हम
pravin sharma
अपनी आवाज में गीत गाना तेरा
अपनी आवाज में गीत गाना तेरा
Shweta Soni
#मुक्तक
#मुक्तक
*Author प्रणय प्रभात*
आया करवाचौथ, सुहागिन देखो सजती( कुंडलिया )
आया करवाचौथ, सुहागिन देखो सजती( कुंडलिया )
Ravi Prakash
ऐसा बदला है मुकद्दर ए कर्बला की ज़मी तेरा
ऐसा बदला है मुकद्दर ए कर्बला की ज़मी तेरा
shabina. Naaz
कहीं फूलों की बारिश है कहीं पत्थर बरसते हैं
कहीं फूलों की बारिश है कहीं पत्थर बरसते हैं
Phool gufran
बेशक प्यार तुमसे था, है ,और शायद  हमेशा रहे।
बेशक प्यार तुमसे था, है ,और शायद हमेशा रहे।
Vishal babu (vishu)
गजब है सादगी उनकी
गजब है सादगी उनकी
sushil sarna
चाय पीने से पिलाने से नहीं होता है
चाय पीने से पिलाने से नहीं होता है
Manoj Mahato
मेरा सोमवार
मेरा सोमवार
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
ज़िंदगी के सौदागर
ज़िंदगी के सौदागर
Shyam Sundar Subramanian
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
मैं चाहती हूँ
मैं चाहती हूँ
ruby kumari
उन कचोटती यादों का क्या
उन कचोटती यादों का क्या
Atul "Krishn"
अम्न का पाठ वो पढ़ाते हैं
अम्न का पाठ वो पढ़ाते हैं
अरशद रसूल बदायूंनी
जीवन के रास्ते हैं अनगिनत, मौका है जीने का हर पल को जीने का।
जीवन के रास्ते हैं अनगिनत, मौका है जीने का हर पल को जीने का।
पूर्वार्थ
रक्षाबंधन
रक्षाबंधन
Harminder Kaur
माँ सरस्वती
माँ सरस्वती
Mamta Rani
``बचपन```*
``बचपन```*
Naushaba Suriya
शीर्षक - स्वप्न
शीर्षक - स्वप्न
Neeraj Agarwal
Loading...