Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
21 Jul 2023 · 1 min read

जिन्दगी की पाठशाला

जिन्दगी की पाठशाला
भावनाओं और परिस्थितिओं को समझने वाला जीवनसाथी हो तो जिन्दगी का सफर हँसते-हँसते कट जाता है।

अशोक त्रिपाठी “माधव”

148 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
जब वक़्त के साथ चलना सीखो,
जब वक़्त के साथ चलना सीखो,
Nanki Patre
भोर
भोर
Kanchan Khanna
#संवाद (#नेपाली_लघुकथा)
#संवाद (#नेपाली_लघुकथा)
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
नज़रें बयां करती हैं,लेकिन इज़हार नहीं करतीं,
नज़रें बयां करती हैं,लेकिन इज़हार नहीं करतीं,
Keshav kishor Kumar
सावन में संदेश
सावन में संदेश
Er.Navaneet R Shandily
-शेखर सिंह
-शेखर सिंह
शेखर सिंह
पुर-नूर ख़यालों के जज़्तबात तेरी बंसी।
पुर-नूर ख़यालों के जज़्तबात तेरी बंसी।
Neelam Sharma
हमारी हिन्दी ऊँच-नीच का भेदभाव नहीं करती.,
हमारी हिन्दी ऊँच-नीच का भेदभाव नहीं करती.,
SPK Sachin Lodhi
जी लगाकर ही सदा
जी लगाकर ही सदा
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
नये शिल्प में रमेशराज की तेवरी
नये शिल्प में रमेशराज की तेवरी
कवि रमेशराज
जीभ/जिह्वा
जीभ/जिह्वा
लक्ष्मी सिंह
करवाचौथ
करवाचौथ
Neeraj Agarwal
जल रहे अज्ञान बनकर, कहेें मैं शुभ सीख हूँ
जल रहे अज्ञान बनकर, कहेें मैं शुभ सीख हूँ
Pt. Brajesh Kumar Nayak
तू बदल गईलू
तू बदल गईलू
Shekhar Chandra Mitra
3379⚘ *पूर्णिका* ⚘
3379⚘ *पूर्णिका* ⚘
Dr.Khedu Bharti
परतंत्रता की नारी
परतंत्रता की नारी
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
Ranjeet Shukla
Ranjeet Shukla
Ranjeet Kumar Shukla
दोहा
दोहा
Ravi Prakash
"आँखें"
Dr. Kishan tandon kranti
मुझे दूसरे के अखाड़े में
मुझे दूसरे के अखाड़े में
*Author प्रणय प्रभात*
टमाटर का जलवा ( हास्य -रचना )
टमाटर का जलवा ( हास्य -रचना )
Dr. Harvinder Singh Bakshi
अग्नि परीक्षा सहने की एक सीमा थी
अग्नि परीक्षा सहने की एक सीमा थी
Shweta Soni
वतन में रहने वाले ही वतन को बेचा करते
वतन में रहने वाले ही वतन को बेचा करते
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
लौह पुरुष - दीपक नीलपदम्
लौह पुरुष - दीपक नीलपदम्
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
Heart Wishes For The Wave.
Heart Wishes For The Wave.
Manisha Manjari
जो ना कहता है
जो ना कहता है
Otteri Selvakumar
खामोश आवाज़
खामोश आवाज़
Dr. Seema Varma
"What comes easy won't last,
पूर्वार्थ
मेला लगता तो है, मेल बढ़ाने के लिए,
मेला लगता तो है, मेल बढ़ाने के लिए,
Buddha Prakash
फारवर्डेड लव मैसेज
फारवर्डेड लव मैसेज
Dr. Pradeep Kumar Sharma
Loading...