Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
30 Jan 2024 · 1 min read

जिंदगी को बोझ नहीं मानता

जिंदगी को बोझ नहीं मानता,
बोझ तन पर मन पर l
जिम्मेदारी का क्यों ना हो?
अकेले ही चला जाना है l
जिंदगी की कटीली पथरीली ,
कंकरीली राहों में ll

सुनसान जगह अंजान राही ,
अंजान पथिक यूं ही।
चले जाना ही अक्ल बंदी ,
दस्तूर दुनिया का यही मीलो दूर ।
मंजिल को पाना ही ध्येय,
इंसान वही जो पथभ्रष्ट ना हो।।

निरंतर अपनी मंजिल की तरफ,
चलने का अभिलाषी हो ।
दुख सुख को समान समझना,
लाभ हानि को बराबर मानकर।
जिंदगी की चमक धमक से दूर,
सन्यासी जैसा जीवन जीना ही जिंदगी।।
सतपाल चौहान।

Language: Hindi
1 Like · 128 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from SATPAL CHAUHAN
View all
You may also like:
गर्म चाय
गर्म चाय
Kanchan Khanna
मुस्की दे प्रेमानुकरण कर लेता हूॅं।
मुस्की दे प्रेमानुकरण कर लेता हूॅं।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
अहिल्या
अहिल्या
Dr.Priya Soni Khare
समय
समय
Paras Nath Jha
आवाहन
आवाहन
Shyam Sundar Subramanian
सीख गांव की
सीख गांव की
Mangilal 713
दिखा तू अपना जलवा
दिखा तू अपना जलवा
gurudeenverma198
बेहयाई दुनिया में इस कदर छाई ।
बेहयाई दुनिया में इस कदर छाई ।
ओनिका सेतिया 'अनु '
सत्य क्या है?
सत्य क्या है?
Vandna thakur
ঈশ্বর কে
ঈশ্বর কে
Otteri Selvakumar
वो मुझे रूठने नही देती।
वो मुझे रूठने नही देती।
Rajendra Kushwaha
The most awkward situation arises when you lie between such
The most awkward situation arises when you lie between such
Sukoon
वृक्ष बन जाओगे
वृक्ष बन जाओगे
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
मतदान 93 सीटों पर हो रहा है और बिकाऊ मीडिया एक जगह झुंड बना
मतदान 93 सीटों पर हो रहा है और बिकाऊ मीडिया एक जगह झुंड बना
*Author प्रणय प्रभात*
*पापी पेट के लिए *
*पापी पेट के लिए *
DR ARUN KUMAR SHASTRI
प्रेरणा गीत (सूरज सा होना मुश्किल पर......)
प्रेरणा गीत (सूरज सा होना मुश्किल पर......)
अनिल कुमार निश्छल
छिप-छिप अश्रु बहाने वालों, मोती व्यर्थ बहाने वालों
छिप-छिप अश्रु बहाने वालों, मोती व्यर्थ बहाने वालों
पूर्वार्थ
हकमारी
हकमारी
Shekhar Chandra Mitra
बाबासाहेब 'अंबेडकर '
बाबासाहेब 'अंबेडकर '
Buddha Prakash
"नाश के लिए"
Dr. Kishan tandon kranti
.......अधूरी........
.......अधूरी........
Naushaba Suriya
बीज अंकुरित अवश्य होगा (सत्य की खोज)
बीज अंकुरित अवश्य होगा (सत्य की खोज)
VINOD CHAUHAN
🤔कौन हो तुम.....🤔
🤔कौन हो तुम.....🤔
सुरेश अजगल्ले 'इन्द्र '
वो अनजाना शहर
वो अनजाना शहर
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
3061.*पूर्णिका*
3061.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
झरते फूल मोहब्ब्त के
झरते फूल मोहब्ब्त के
Arvina
अंगद के पैर की तरह
अंगद के पैर की तरह
Satish Srijan
तेरे दरबार आया हूँ
तेरे दरबार आया हूँ
Basant Bhagawan Roy
कुछ काम करो , कुछ काम करो
कुछ काम करो , कुछ काम करो
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
संत रविदास!
संत रविदास!
Bodhisatva kastooriya
Loading...