Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
12 Mar 2023 · 1 min read

💐प्रेम कौतुक-414💐

ज़ाहिर है यह सब जो चल रहा है,चलता रहेगा,
फ़ानी है मिरी जान से लेकर उनकी जान तक,
दिल की अन्जुमन में है जो,वो भी चलता रहेगा,
उनका पता ढूँढता ही रहूँगा,आख़िरी जान तक।

©®अभिषेक: पाराशरः “आनन्द”

Language: Hindi
48 Views
Join our official announcements group on Whatsapp & get all the major updates from Sahityapedia directly on Whatsapp.
You may also like:
"माँ"
इंदु वर्मा
ऐ पड़ोसी सोच
ऐ पड़ोसी सोच
Satish Srijan
ग़ज़ल संग्रह 'तसव्वुर'
ग़ज़ल संग्रह 'तसव्वुर'
Anis Shah
💐अज्ञात के प्रति-114💐
💐अज्ञात के प्रति-114💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
मुस्कान है
मुस्कान है
Dr. Sunita Singh
अंतिम एहसास
अंतिम एहसास
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
***
*** " बसंती-क़हर और मेरे सांवरे सजन......! " ***
VEDANTA PATEL
सूरज आया संदेशा लाया
सूरज आया संदेशा लाया
AMRESH KUMAR VERMA
*लघु नाटिका*
*लघु नाटिका*
Ravi Prakash
" वट वृक्ष सा स्पैक्ट्रम "
Dr Meenu Poonia
दूसरे दर्जे का आदमी
दूसरे दर्जे का आदमी
Jeewan Singh 'जीवनसवारो'
कोरोना
कोरोना
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
बेशक़ कमियाँ मुझमें निकाल
बेशक़ कमियाँ मुझमें निकाल
सिद्धार्थ गोरखपुरी
ज़माने में बहुत लोगों से बहुत नुकसान हुआ
ज़माने में बहुत लोगों से बहुत नुकसान हुआ
शिव प्रताप लोधी
बीते कल की रील
बीते कल की रील
Sandeep Pande
হাজার বছরের আঁধার
হাজার বছরের আঁধার
Sakhawat Jisan
उठो, जागो, बढ़े चलो बंधु...( स्वामी विवेकानंद की जयंती पर उनके दिए गए उत्प्रेरक मंत्र से प्रेरित होकर लिखा गया मेरा स्वरचित गीत)
उठो, जागो, बढ़े चलो बंधु...( स्वामी विवेकानंद की जयंती पर उनके दिए गए उत्प्रेरक मंत्र से प्रेरित होकर लिखा गया मेरा स्वरचित गीत)
डॉ.सीमा अग्रवाल
नीम करोरी वारे बाबा की, महिमा बडी अनन्त।
नीम करोरी वारे बाबा की, महिमा बडी अनन्त।
Omprakash Sharma
समझदारी का तो पूछिए ना जनाब,
समझदारी का तो पूछिए ना जनाब,
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
हमें आशिकी है।
हमें आशिकी है।
Taj Mohammad
It is not necessary to be beautiful for beauty,
It is not necessary to be beautiful for beauty,
Sakshi Tripathi
चाहने लग गए है लोग मुझको भी थोड़ा थोड़ा,
चाहने लग गए है लोग मुझको भी थोड़ा थोड़ा,
Vishal babu (vishu)
शिव
शिव
Dr Archana Gupta
মানুষ হয়ে যাও !
মানুষ হয়ে যাও !
Ahtesham Ahmad
मत सता गरीब को वो गरीबी पर रो देगा।
मत सता गरीब को वो गरीबी पर रो देगा।
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
राजकीय कन्या प्राथमिक पाठशाला निन्दाना(महम)
राजकीय कन्या प्राथमिक पाठशाला निन्दाना(महम)
Satpallm1978 Chauhan
कर्मयोगी
कर्मयोगी
Aman Kumar Holy
गाथा हिन्दी की
गाथा हिन्दी की
तरुण सिंह पवार
वीज़ा के लिए इंतज़ार
वीज़ा के लिए इंतज़ार
Shekhar Chandra Mitra
शब्द गले में रहे अटकते, लब हिलते रहे।
शब्द गले में रहे अटकते, लब हिलते रहे।
विमला महरिया मौज
Loading...