Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
12 Jul 2023 · 1 min read

“चुल्लू भर पानी”

“चुल्लू भर पानी”
सूर्य के प्रचण्ड साम्राज्य तले
तरस रहे लोग
चुल्लू भर पानी के लिए,
तब कैसे कह दूँ
शासकों और प्रशासकों को
कि डूब मरो तुम
चुल्लू भर पानी में?

6 Likes · 4 Comments · 176 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr. Kishan tandon kranti
View all
You may also like:
गुजरा ज़माना
गुजरा ज़माना
Dr.Priya Soni Khare
व्हाट्सएप युग का प्रेम
व्हाट्सएप युग का प्रेम
Shaily
तेरे हक़ में
तेरे हक़ में
Dr fauzia Naseem shad
अतुल वरदान है हिंदी, सकल सम्मान है हिंदी।
अतुल वरदान है हिंदी, सकल सम्मान है हिंदी।
Neelam Sharma
अपना ख्याल रखियें
अपना ख्याल रखियें
Dr Shweta sood
मैं हूँ कि मैं मैं नहीं हूँ
मैं हूँ कि मैं मैं नहीं हूँ
VINOD CHAUHAN
क्या फर्क़ है तवायफ में और
क्या फर्क़ है तवायफ में और
SURYA PRAKASH SHARMA
ऐसे हैं हमारे राम
ऐसे हैं हमारे राम
Shekhar Chandra Mitra
"स्वजन संस्कृति"
*Author प्रणय प्रभात*
रिश्ते
रिश्ते
Mangilal 713
तार दिल के टूटते हैं, क्या करूँ मैं
तार दिल के टूटते हैं, क्या करूँ मैं
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
रिश्ता
रिश्ता
Santosh Shrivastava
नशा
नशा
विनोद वर्मा ‘दुर्गेश’
कया बताएं 'गालिब'
कया बताएं 'गालिब'
Mr.Aksharjeet
༺♥✧
༺♥✧
Satyaveer vaishnav
बीड़ी की बास
बीड़ी की बास
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
अंतरराष्ट्रीय योग दिवस
अंतरराष्ट्रीय योग दिवस
Ram Krishan Rastogi
सुनो सखी !
सुनो सखी !
Manju sagar
ये तो मुहब्बत में
ये तो मुहब्बत में
Shyamsingh Lodhi Rajput (Tejpuriya)
*सबके मन में आस है, चलें अयोध्या धाम (कुंडलिया )*
*सबके मन में आस है, चलें अयोध्या धाम (कुंडलिया )*
Ravi Prakash
वो सोचते हैं कि उनकी मतलबी दोस्ती के बिना,
वो सोचते हैं कि उनकी मतलबी दोस्ती के बिना,
manjula chauhan
मानवीय संवेदना बनी रहे
मानवीय संवेदना बनी रहे
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
पुरुष को एक ऐसी प्रेमिका की चाह होती है!
पुरुष को एक ऐसी प्रेमिका की चाह होती है!
पूर्वार्थ
रिश्ते सम्भालन् राखियो, रिश्तें काँची डोर समान।
रिश्ते सम्भालन् राखियो, रिश्तें काँची डोर समान।
Anil chobisa
आदि गुरु शंकराचार्य जयंती
आदि गुरु शंकराचार्य जयंती
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
तितली रानी (बाल कविता)
तितली रानी (बाल कविता)
नाथ सोनांचली
भूख
भूख
RAKESH RAKESH
ज़िन्दगी एक उड़ान है ।
ज़िन्दगी एक उड़ान है ।
Phool gufran
काश तुम ये जान पाते...
काश तुम ये जान पाते...
डॉ.सीमा अग्रवाल
चाहत ए मोहब्बत में हम सभी मिलते हैं।
चाहत ए मोहब्बत में हम सभी मिलते हैं।
Neeraj Agarwal
Loading...