Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
14 Jun 2023 · 1 min read

चुप रहो

चुप रहो
मां हमेशा झड़कती थी…चुप रहो बच्ची ज्यादा नहीं बोलते।
थोड़ी सी बड़ी हुई तो…
थोड़ी सी बड़ी हुई तो मां फटकार लगाती चुप रहो बड़ी हो रही हो ।
जवान होने पर….
जवान होने पर मां जोर से दपटती चुप रहो दूसरों के घर जाना है।
ससुराल गई जब…
ससुराल गई जब पति के किसी बात पर बोलने पर उनके डांट मिली चुप रहो तुम जानती ही क्या हो।
नौकरी पर गई जब…
नौकरी पर गई जब सही बात बोलने पर कहां गया चुप रहो नहीं सुनने की आदत नहीं है क्या अगर काम करना है तो चुप रहो।
थोड़ी उम्र ढली जब…
थोड़ी उम्र खली जब अब जब भी बोली तो बच्चों ने कहा तुम्हें इन बातों से क्या लेना देना चुप रहो।
बूढ़ी हुई तो…
बूढ़ी हुई तो कुछ भी बोलना चाहा तो सब ने कहा चुप रहो तुम्हें आराम की जरूरत है।
इस चुप्पी की कहो में आत्मा की कहो में बहुत कुछ दबा पड़ा है उन्हें खोलना चाहती हूं… बहुत कुछ बोलना चाहती हूं… पर सामने यमराज खड़ा है उसने कहा चुप रहो तुम्हारा अंत आ गया है और मैं चुपचाप चुप हो गई… चुप चाप चुप हो गई।
स्वरचित कविता
सुरेखा राठी

7 Likes · 4 Comments · 521 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
2695.*पूर्णिका*
2695.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
तू मेरी मैं तेरा, इश्क है बड़ा सुनहरा
तू मेरी मैं तेरा, इश्क है बड़ा सुनहरा
SUNIL kumar
I thought you're twist to what I knew about people of modern
I thought you're twist to what I knew about people of modern
Sukoon
मौन संवाद
मौन संवाद
Ramswaroop Dinkar
स्नेह की मृदु भावनाओं को जगाकर।
स्नेह की मृदु भावनाओं को जगाकर।
surenderpal vaidya
सावन के पर्व-त्योहार
सावन के पर्व-त्योहार
लक्ष्मी सिंह
पैगाम
पैगाम
Shashi kala vyas
इक क्षण
इक क्षण
Kavita Chouhan
हमें यह ज्ञात है, आभास है
हमें यह ज्ञात है, आभास है
DrLakshman Jha Parimal
कड़वी बात~
कड़वी बात~
दिनेश एल० "जैहिंद"
जपू नित राधा - राधा नाम
जपू नित राधा - राधा नाम
Basant Bhagawan Roy
सावन में शिव गुणगान
सावन में शिव गुणगान
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
जो गुजर गया
जो गुजर गया
ruby kumari
पतझड़ तेरी वंदना, तेरी जय-जयकार(कुंडलिया)
पतझड़ तेरी वंदना, तेरी जय-जयकार(कुंडलिया)
Ravi Prakash
Gazal
Gazal
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
सौगंध
सौगंध
Shriyansh Gupta
तू मुझको संभालेगी क्या जिंदगी
तू मुझको संभालेगी क्या जिंदगी
कृष्णकांत गुर्जर
शे’र/ MUSAFIR BAITHA
शे’र/ MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
आस्था और चुनौती
आस्था और चुनौती
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
दम है तो गलत का विरोध करो अंधभक्तो
दम है तो गलत का विरोध करो अंधभक्तो
शेखर सिंह
कामयाबी का नशा
कामयाबी का नशा
SHAMA PARVEEN
हिरनगांव की रियासत
हिरनगांव की रियासत
Prashant Tiwari
हवायें तितलियों के पर काट लेती हैं
हवायें तितलियों के पर काट लेती हैं
कवि दीपक बवेजा
"भव्यता"
*Author प्रणय प्रभात*
आपके स्वभाव की
आपके स्वभाव की
Dr fauzia Naseem shad
दिल हो काबू में....😂
दिल हो काबू में....😂
Jitendra Chhonkar
एक पुरुष जब एक महिला को ही सब कुछ समझ लेता है या तो वह बेहद
एक पुरुष जब एक महिला को ही सब कुछ समझ लेता है या तो वह बेहद
Rj Anand Prajapati
💐प्रेम कौतुक-491💐
💐प्रेम कौतुक-491💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
"किताबें"
Dr. Kishan tandon kranti
कर्म कभी माफ नहीं करता
कर्म कभी माफ नहीं करता
नूरफातिमा खातून नूरी
Loading...