Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
4 May 2024 · 1 min read

“चाँद बीबी”

“चाँद बीबी”
अहमद नगर की शासिका थी वह
चाँद बीबी नाम,
गौरवशाली भारतीय इतिहास में दर्ज
अद्भुत उनका काम।
अपनों के विश्वासघात ने उसे
मौत की नींद सुलाई,
चाँद बीबी की वीरता-दूरदर्शिता ने
नारी शक्ति की डंका बजाई।

1 Like · 1 Comment · 40 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr. Kishan tandon kranti
View all
You may also like:
हिन्दी दोहा बिषय- तारे
हिन्दी दोहा बिषय- तारे
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
राम रहीम और कान्हा
राम रहीम और कान्हा
Dinesh Kumar Gangwar
जन्म से मरन तक का सफर
जन्म से मरन तक का सफर
Vandna Thakur
तुममें और मुझमें बस एक समानता है,
तुममें और मुझमें बस एक समानता है,
सिद्धार्थ गोरखपुरी
ई-संपादक
ई-संपादक
Dr. Pradeep Kumar Sharma
ईश्वर कहो या खुदा
ईश्वर कहो या खुदा
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
धनतेरस जुआ कदापि न खेलें
धनतेरस जुआ कदापि न खेलें
कवि रमेशराज
■ यादगार लम्हे
■ यादगार लम्हे
*प्रणय प्रभात*
आत्मसंवाद
आत्मसंवाद
Shyam Sundar Subramanian
योग करते जाओ
योग करते जाओ
Sandeep Pande
सर के बल चलकर आएँगी, खुशियाँ अपने आप।
सर के बल चलकर आएँगी, खुशियाँ अपने आप।
डॉ.सीमा अग्रवाल
दो अक्षर में कैसे बतला दूँ
दो अक्षर में कैसे बतला दूँ
Harminder Kaur
चिंगारी
चिंगारी
Dr. Mahesh Kumawat
सिर्फ तुम
सिर्फ तुम
Arti Bhadauria
हिन्दी
हिन्दी
manjula chauhan
पिता के प्रति श्रद्धा- सुमन
पिता के प्रति श्रद्धा- सुमन
Mrs PUSHPA SHARMA {पुष्पा शर्मा अपराजिता}
भय आपको सत्य से दूर करता है, चाहे वो स्वयं से ही भय क्यों न
भय आपको सत्य से दूर करता है, चाहे वो स्वयं से ही भय क्यों न
Ravikesh Jha
माँ i love you ❤ 🤰
माँ i love you ❤ 🤰
Swara Kumari arya
Ranjeet Shukla
Ranjeet Shukla
Ranjeet Kumar Shukla
मन की प्रीत
मन की प्रीत
भरत कुमार सोलंकी
रोशनी सूरज की कम क्यूँ हो रही है।
रोशनी सूरज की कम क्यूँ हो रही है।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
तन्हाई
तन्हाई
Sidhartha Mishra
हमारा देश
हमारा देश
Neeraj Agarwal
विदाई
विदाई
Aman Sinha
बोलो बोलो हर हर महादेव बोलो
बोलो बोलो हर हर महादेव बोलो
gurudeenverma198
"अहमियत"
Dr. Kishan tandon kranti
मैं गुजर जाऊँगा हवा के झोंके की तरह
मैं गुजर जाऊँगा हवा के झोंके की तरह
VINOD CHAUHAN
हरे भरे खेत
हरे भरे खेत
जगदीश लववंशी
कोई किसी का कहां हुआ है
कोई किसी का कहां हुआ है
Dr fauzia Naseem shad
*पाऊँ पद हरि आपके , प्रभु जी करो विचार【भक्ति-कुंडलिया】*
*पाऊँ पद हरि आपके , प्रभु जी करो विचार【भक्ति-कुंडलिया】*
Ravi Prakash
Loading...