Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
23 Jan 2024 · 1 min read

चल विजय पथ

चल विजय पथ
——————
कुशलतम प्रज्ञान है गर,
सार्थक अभियान है गर,
फिर कहीं रुकना नहीं तू,
विघ्न में झुकना नहीं तू।
अनवरत चलता रहे रथ,
सफल होंगे बस यही कथ।

चल विजय पथ ,
चल विजय पथ,
चल विजय पथ।

तनिक भी न रोष कर तू,
मन हृदय में जोश भर तू,
हार भी उपहार है इक,
जीत के उदगार है इक।
पय को थोड़ा और ले मथ,
सफलता का शुरू हो अथ।

चल विजय पथ ,
चल विजय पथ,
चल विजय पथ।

यदि कोई व्यवधान आये,
विफलता का डर सताये,
माधव को मन में बसाना,
सतत कोशिश करते जाना।
पैदल चल यदि है बिना रथ,
निर्भय का औजार रख हथ।

चल विजय पथ ,
चल विजय पथ,
चल विजय पथ।

एक दिन उस पार होगा,
मुट्ठी में संसार होगा,
फिर दिवस वह आएगा,
ध्वज चाँद पर फहरेगा।
स्वेद से हो जा तू लथपथ,
डाल दे बाधा में इक नथ।

चल विजय पथ ,
चल विजय पथ,
चल विजय पथ।

-सतीश सृजन

Language: Hindi
99 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Satish Srijan
View all
You may also like:
ये   दुनिया  है  एक  पहेली
ये दुनिया है एक पहेली
कुंवर तुफान सिंह निकुम्भ
कुछ व्यंग्य पर बिल्कुल सच
कुछ व्यंग्य पर बिल्कुल सच
Ram Krishan Rastogi
प्रेम और पुष्प, होता है सो होता है, जिस तरह पुष्प को जहां भी
प्रेम और पुष्प, होता है सो होता है, जिस तरह पुष्प को जहां भी
Sanjay ' शून्य'
सच
सच
Neeraj Agarwal
एक अच्छे मुख्यमंत्री में क्या गुण होने चाहिए ?
एक अच्छे मुख्यमंत्री में क्या गुण होने चाहिए ?
Vandna thakur
कितनी प्यारी प्रकृति
कितनी प्यारी प्रकृति
जगदीश लववंशी
💐 *दोहा निवेदन*💐
💐 *दोहा निवेदन*💐
भवानी सिंह धानका 'भूधर'
कभी चाँद को देखा तो कभी आपको देखा
कभी चाँद को देखा तो कभी आपको देखा
VINOD CHAUHAN
जिन्दगी से शिकायत न रही
जिन्दगी से शिकायत न रही
Anamika Singh
* रेल हादसा *
* रेल हादसा *
DR ARUN KUMAR SHASTRI
विचार
विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
सैनिक
सैनिक
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
यूं ही नहीं कहलाते, चिकित्सक/भगवान!
यूं ही नहीं कहलाते, चिकित्सक/भगवान!
Manu Vashistha
(12) भूख
(12) भूख
Kishore Nigam
कुंडलिनी छंद
कुंडलिनी छंद
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
Dr Archana Gupta
" मुरादें पूरी "
DrLakshman Jha Parimal
3090.*पूर्णिका*
3090.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
//एहसास//
//एहसास//
AVINASH (Avi...) MEHRA
नये गीत गायें
नये गीत गायें
Arti Bhadauria
*नव-संसद की बढ़ा रहा है, शोभा शुभ सेंगोल (गीत)*
*नव-संसद की बढ़ा रहा है, शोभा शुभ सेंगोल (गीत)*
Ravi Prakash
प्यार किया हो जिसने, पाने की चाह वह नहीं रखते।
प्यार किया हो जिसने, पाने की चाह वह नहीं रखते।
Yogi Yogendra Sharma : Motivational Speaker
उस सावन के इंतजार में कितने पतझड़ बीत गए
उस सावन के इंतजार में कितने पतझड़ बीत गए
ठाकुर प्रतापसिंह "राणाजी"
" क़ैदी विचाराधीन हूँ "
Chunnu Lal Gupta
चांद भी आज ख़ूब इतराया होगा यूं ख़ुद पर,
चांद भी आज ख़ूब इतराया होगा यूं ख़ुद पर,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
प्रकृति ने चेताया जग है नश्वर
प्रकृति ने चेताया जग है नश्वर
Buddha Prakash
🙏*गुरु चरणों की धूल*🙏
🙏*गुरु चरणों की धूल*🙏
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
हर चढ़ते सूरज की शाम है,
हर चढ़ते सूरज की शाम है,
Lakhan Yadav
संभावना
संभावना
Ajay Mishra
श्री रामचरितमानस में कुछ स्थानों पर घटना एकदम से घटित हो जाती है ऐसे ही एक स्थान पर मैंने यह
श्री रामचरितमानस में कुछ स्थानों पर घटना एकदम से घटित हो जाती है ऐसे ही एक स्थान पर मैंने यह "reading between the lines" लिखा है
SHAILESH MOHAN
Loading...