Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
10 May 2023 · 1 min read

घड़ी घड़ी ये घड़ी

क्या कुछ बताती है
घड़ी घड़ी ये घड़ी,
साँसों का मोल समझ
इसकी कीमत बड़ी।

सुइयों की टिक टिक
यही तो बताती है,
तन से जो गई साँस
लौट के न आती है।

घड़ी-घड़ी घड़ी का है
हर घड़ी ये इशारा,
घड़ी घड़ी रीत होता
साँस का व्यापारा।

घड़ी घड़ी घड़ी का
हिसाब रोज किया कर,
ज्यादा न गर थोड़ा समय,
भक्ति को दिया कर।

घड़ी घड़ी कुछ घड़ी,
राम को यदि ध्यायेगा,
ऐसी घड़ी आए एक,
भवसागर तर जाएगा।

घड़ी घड़ी हर घड़ी,
घड़ी जो भुलाया।
घड़ी बीते अंत घड़ी
बहुत पछताया।

एक घड़ी आधी घड़ी,
आधी की भी आधी।
नाम जप तरेगा
भले बड़ अपराधी।

सतीश सृजन

Language: Hindi
342 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Satish Srijan
View all
You may also like:
हम भी तो चाहते हैं, तुम्हें देखना खुश
हम भी तो चाहते हैं, तुम्हें देखना खुश
gurudeenverma198
*शिवाजी का आह्वान*
*शिवाजी का आह्वान*
कवि अनिल कुमार पँचोली
हम इतने सभ्य है कि मत पूछो
हम इतने सभ्य है कि मत पूछो
ruby kumari
नववर्ष तुम्हे मंगलमय हो
नववर्ष तुम्हे मंगलमय हो
Ram Krishan Rastogi
*आस्था*
*आस्था*
Dushyant Kumar
बिस्तर से आशिकी
बिस्तर से आशिकी
Buddha Prakash
जीवन की आपाधापी में, न जाने सब क्यों छूटता जा रहा है।
जीवन की आपाधापी में, न जाने सब क्यों छूटता जा रहा है।
Gunjan Tiwari
हर एक ईट से उम्मीद लगाई जाती है
हर एक ईट से उम्मीद लगाई जाती है
कवि दीपक बवेजा
चुनाव
चुनाव
Dr. Pradeep Kumar Sharma
आका के बूते
आका के बूते
*Author प्रणय प्रभात*
आत्म  चिंतन करो दोस्तों,देश का नेता अच्छा हो
आत्म चिंतन करो दोस्तों,देश का नेता अच्छा हो
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
चंद तारे
चंद तारे
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
कभी गुज़र न सका जो गुज़र गया मुझमें
कभी गुज़र न सका जो गुज़र गया मुझमें
Shweta Soni
*मिले हमें गुरुदेव खुशी का, स्वर्णिम दिन कहलाया 【हिंदी गजल/ग
*मिले हमें गुरुदेव खुशी का, स्वर्णिम दिन कहलाया 【हिंदी गजल/ग
Ravi Prakash
हर तीखे मोड़ पर मन में एक सुगबुगाहट सी होती है। न जाने क्यों
हर तीखे मोड़ पर मन में एक सुगबुगाहट सी होती है। न जाने क्यों
Guru Mishra
2321.पूर्णिका
2321.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
"आवारा-मिजाजी"
Dr. Kishan tandon kranti
मुस्कराते हुए गुजरी वो शामे।
मुस्कराते हुए गुजरी वो शामे।
कुमार
Impossible means :-- I'm possible
Impossible means :-- I'm possible
Naresh Kumar Jangir
बिजलियों का दौर
बिजलियों का दौर
अरशद रसूल बदायूंनी
तुम जिसे खुद से दूर करने की कोशिश करोगे उसे सृष्टि तुमसे मिल
तुम जिसे खुद से दूर करने की कोशिश करोगे उसे सृष्टि तुमसे मिल
Rashmi Ranjan
चंद्र ग्रहण के बाद ही, बदलेगी तस्वीर
चंद्र ग्रहण के बाद ही, बदलेगी तस्वीर
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
मुखौटे
मुखौटे
Shaily
बिगड़ता यहां परिवार देखिए........
बिगड़ता यहां परिवार देखिए........
SATPAL CHAUHAN
सुख हो या दुख बस राम को ही याद रखो,
सुख हो या दुख बस राम को ही याद रखो,
सत्य कुमार प्रेमी
होली
होली
Manu Vashistha
दोहा छंद विधान ( दोहा छंद में )
दोहा छंद विधान ( दोहा छंद में )
Subhash Singhai
दर्द
दर्द
SHAMA PARVEEN
हवाएँ
हवाएँ
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
हादसें ज़िंदगी का हिस्सा हैं
हादसें ज़िंदगी का हिस्सा हैं
Dr fauzia Naseem shad
Loading...