Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
22 Feb 2024 · 1 min read

गुजरे ज़माने वाले।

गुजरे ज़माने वाले तुझे मैं क्या नाम दूं।
जो तुझे अच्छा लगे उसी से पुकार लूं।।1।।

तेरी कल्बे तमन्ना तो जानूं चाहतों की।
फिर मैं भी उम्मीद का दामन थाम लूं।।2।।

जितना तू चाहे मैं तुझे उतना प्यार दूं।
सांसों से रूह तक मैं तुझको उतार लूं।।3।।

तू एक बार और मुझमें खुशबू सा आ।
मैं उजड़े गुलशन को फिर से बहार दूं।।4।।

ऐ काश तू अपना बनाके देख मुझको।
तो मैं फिरसे अपनी जिंदगी संवार लूं।।5।।

वक्ते मर्ग है शायद कुछ कहना है तुझे।
तू कहे तो मौत से चंद सांसे उधार लूं।।6।।

ताज मोहम्मद
लखनऊ

34 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
✍️ D. K 27 june 2023
✍️ D. K 27 june 2023
The_dk_poetry
!!  श्री गणेशाय् नम्ः  !!
!! श्री गणेशाय् नम्ः !!
लोकेश शर्मा 'अवस्थी'
सोचना नहीं कि तुमको भूल गया मैं
सोचना नहीं कि तुमको भूल गया मैं
gurudeenverma198
बैठा ड्योढ़ी साँझ की, सोच रहा आदित्य।
बैठा ड्योढ़ी साँझ की, सोच रहा आदित्य।
डॉ.सीमा अग्रवाल
हवाओं के भरोसे नहीं उड़ना तुम कभी,
हवाओं के भरोसे नहीं उड़ना तुम कभी,
Neelam Sharma
सीखा दे ना सबक ऐ जिंदगी अब तो, लोग हमको सिर्फ मतलब के लिए या
सीखा दे ना सबक ऐ जिंदगी अब तो, लोग हमको सिर्फ मतलब के लिए या
Rekha khichi
---- विश्वगुरु ----
---- विश्वगुरु ----
सूरज राम आदित्य (Suraj Ram Aditya)
रिश्ता ये प्यार का
रिश्ता ये प्यार का
Mamta Rani
अभागा
अभागा
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
*कमाल की बातें*
*कमाल की बातें*
आकांक्षा राय
डरो नहीं, लड़ो
डरो नहीं, लड़ो
Shekhar Chandra Mitra
खुशी ( Happiness)
खुशी ( Happiness)
Ashu Sharma
ग़ज़ल
ग़ज़ल
Dr. Sunita Singh
सारे नेता कर रहे, आपस में हैं जंग
सारे नेता कर रहे, आपस में हैं जंग
Dr Archana Gupta
Yado par kbhi kaha pahra hota h.
Yado par kbhi kaha pahra hota h.
Sakshi Tripathi
एक कवि की कविता ही पूजा, यहाँ अपने देव को पाया
एक कवि की कविता ही पूजा, यहाँ अपने देव को पाया
Dr.Pratibha Prakash
बड़े अगर कोई बात कहें तो उसे
बड़े अगर कोई बात कहें तो उसे
भवानी सिंह धानका 'भूधर'
विचारों में मतभेद
विचारों में मतभेद
Dr fauzia Naseem shad
है एक डोर
है एक डोर
Ranjana Verma
संतोष करना ही आत्मा
संतोष करना ही आत्मा
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
💐प्रेम कौतुक-558💐
💐प्रेम कौतुक-558💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
23/37.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/37.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
पतंग
पतंग
अलका 'भारती'
अच्छा स्वस्थ स्वच्छ विचार ही आपको आत्मनिर्भर बनाते है।
अच्छा स्वस्थ स्वच्छ विचार ही आपको आत्मनिर्भर बनाते है।
Rj Anand Prajapati
■ आखिरकार ■
■ आखिरकार ■
*Author प्रणय प्रभात*
साधना की मन सुहानी भोर से
साधना की मन सुहानी भोर से
OM PRAKASH MEENA
फूल
फूल
Pt. Brajesh Kumar Nayak
नए मुहावरे का चाँद
नए मुहावरे का चाँद
Dr MusafiR BaithA
।। श्री सत्यनारायण कथा द्वितीय अध्याय।।
।। श्री सत्यनारायण कथा द्वितीय अध्याय।।
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
ग़ज़ल
ग़ज़ल
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
Loading...