Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
25 Jul 2016 · 1 min read

क्षणिकाएँ—1

25.07.16
क्षणिकाएँ,,,,,
*
वक्त के साथ चली तो पिछड़ गयी
खुद से खुद ही महाभारत लड़ गयी
पागलों सा जीवन जीने निकली हूँ अब
ख़ुशी के साथ देखो तो सही
मैं भी लम्हा दर लम्हा ठहर गयी,,,,
*
साथ का साथ जो चाहा, तो गलत हुए
हमने चारसूं इंसा पुकारा, तो गलत हुए
वक्त के साथ जो साथ मिला, उसे नकारा
अब खुद ने खुद को पुकारा, तो गलत हुए,,,
*
दुःख नहीं अब किसी के धोखे का
खुद जल रौशन किये झरोखे का
राख हमारी किसी के काम जो आये
मानव बन कुछ अंधकार ही मिटाये,,,
*
अपने नसीब पर अब रश्क़ करते हैं
किसी को जो न मिले हों अब तक
वो ग़म भी गले हमसे ही मिलते हैं
नसीब इतराता है घर मेरे आकर,कि
तुमसे दोस्त सब को कहाँ मिलते हैं,,,
*
मुस्कान की कैद से देखो न
आँसुओं को आज निकाला है
सच,हमने ये वहम अब तक पाला है
ख़ुशी पूछेगी मेरे भी घर का पता
ये सोच पूरा घर ही सजा डाला है,,,

*****
**** शुचि(भवि)
****

Language: Hindi
307 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
"लक्की"
Dr Meenu Poonia
हर पति परमेश्वर नही होता
हर पति परमेश्वर नही होता
Kavita Chouhan
बांते
बांते
Punam Pande
ऊँचाई .....
ऊँचाई .....
sushil sarna
जय जय हिन्दी
जय जय हिन्दी
gurudeenverma198
नारी शक्ति का हो 🌹🙏सम्मान🙏
नारी शक्ति का हो 🌹🙏सम्मान🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
स्वार्थ सिद्धि उन्मुक्त
स्वार्थ सिद्धि उन्मुक्त
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
*नारी के सोलह श्रृंगार*
*नारी के सोलह श्रृंगार*
Dr. Vaishali Verma
बारिश
बारिश
विजय कुमार अग्रवाल
#क्षणिका-
#क्षणिका-
*Author प्रणय प्रभात*
शादी अगर जो इतनी बुरी चीज़ होती तो,
शादी अगर जो इतनी बुरी चीज़ होती तो,
पूर्वार्थ
💐प्रेम कौतुक-336💐
💐प्रेम कौतुक-336💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
तमन्ना थी मैं कोई कहानी बन जाऊॅ॑
तमन्ना थी मैं कोई कहानी बन जाऊॅ॑
VINOD CHAUHAN
2440.पूर्णिका
2440.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
*समय अच्छा अगर हो तो, खुशी कुछ खास मत करना (मुक्तक)*
*समय अच्छा अगर हो तो, खुशी कुछ खास मत करना (मुक्तक)*
Ravi Prakash
ग़ज़ल
ग़ज़ल
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
यदि कोई आपकी कॉल को एक बार में नहीं उठाता है तब आप यह समझिए
यदि कोई आपकी कॉल को एक बार में नहीं उठाता है तब आप यह समझिए
Rj Anand Prajapati
"संवाद "
DrLakshman Jha Parimal
लिबास दर लिबास बदलता इंसान
लिबास दर लिबास बदलता इंसान
Harminder Kaur
जहाँ सूर्य की किरण हो वहीं प्रकाश होता है,
जहाँ सूर्य की किरण हो वहीं प्रकाश होता है,
Ranjeet kumar patre
मदर टंग
मदर टंग
Ms.Ankit Halke jha
स्थाई- कहो सुनो और गुनों
स्थाई- कहो सुनो और गुनों
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
कोई भी
कोई भी
Dr fauzia Naseem shad
अवसरवादी, झूठे, मक्कार, मतलबी, बेईमान और चुगलखोर मित्र से अच
अवसरवादी, झूठे, मक्कार, मतलबी, बेईमान और चुगलखोर मित्र से अच
विमला महरिया मौज
*वोट हमें बनवाना है।*
*वोट हमें बनवाना है।*
Dushyant Kumar
"माँ"
इंदु वर्मा
रिसाइकल्ड रिश्ता - नया लेबल
रिसाइकल्ड रिश्ता - नया लेबल
Atul "Krishn"
कोई चोर है...
कोई चोर है...
Srishty Bansal
तहजीब राखिए !
तहजीब राखिए !
साहित्य गौरव
हे नाथ आपकी परम कृपा से, उत्तम योनि पाई है।
हे नाथ आपकी परम कृपा से, उत्तम योनि पाई है।
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
Loading...