Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
1 Dec 2022 · 1 min read

किताबों की वापसी

टीवी देखना बिल्कुल बंद करके!
रेडियो सुनना बिल्कुल बंद करके!!
आप किताब पढ़ना शुरू कीजिए
अख़बार पढ़ना बिल्कुल बंद करके!!
Shekhar Chandra Mitra
#NDTV #RavishKumar #kabir
#आंखों_देखा_सच #journalist #हक़
#दलित #पिछड़ा #आदिवासी #बहुजन

Language: Hindi
142 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
आ जाओ
आ जाओ
हिमांशु Kulshrestha
वन्दे मातरम वन्दे मातरम
वन्दे मातरम वन्दे मातरम
Swami Ganganiya
सपनो में देखूं तुम्हें तो
सपनो में देखूं तुम्हें तो
Aditya Prakash
मन का महाभारत
मन का महाभारत
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
दोस्ती
दोस्ती
Neeraj Agarwal
"मैं" के रंगों में रंगे होते हैं, आत्मा के ये परिधान।
Manisha Manjari
प्रवासी चाँद
प्रवासी चाँद
Ramswaroop Dinkar
सूखी टहनियों को सजा कर
सूखी टहनियों को सजा कर
Harminder Kaur
■ भय का कारोबार...
■ भय का कारोबार...
*Author प्रणय प्रभात*
कुछ खो गया, तो कुछ मिला भी है
कुछ खो गया, तो कुछ मिला भी है
Anil Mishra Prahari
*बादल (बाल कविता)*
*बादल (बाल कविता)*
Ravi Prakash
कुछ चूहे थे मस्त बडे
कुछ चूहे थे मस्त बडे
Vindhya Prakash Mishra
बहना तू सबला बन 🙏🙏
बहना तू सबला बन 🙏🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
संत सनातनी बनना है तो
संत सनातनी बनना है तो
Satyaveer vaishnav
पगली
पगली
Kanchan Khanna
एक परोपकारी साहूकार: ‘ संत तुकाराम ’
एक परोपकारी साहूकार: ‘ संत तुकाराम ’
कवि रमेशराज
एहसास कभी ख़त्म नही होते ,
एहसास कभी ख़त्म नही होते ,
शेखर सिंह
शरद पूर्णिमा की देती हूंँ बधाई, हर घर में खुशियांँ चांँदनी स
शरद पूर्णिमा की देती हूंँ बधाई, हर घर में खुशियांँ चांँदनी स
Neerja Sharma
"आशा" की चौपाइयां
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
बसंत का मौसम
बसंत का मौसम
Awadhesh Kumar Singh
सच, सच-सच बताना
सच, सच-सच बताना
Jeewan Singh 'जीवनसवारो'
"बल और बुद्धि"
Dr. Kishan tandon kranti
बनावटी दुनिया मोबाईल की
बनावटी दुनिया मोबाईल की"
Dr Meenu Poonia
The life of an ambivert is the toughest. You know why? I'll
The life of an ambivert is the toughest. You know why? I'll
Sukoon
खुद को मैंने कम उसे ज्यादा लिखा। जीस्त का हिस्सा उसे आधा लिखा। इश्क में उसके कृष्णा बन गया। प्यार में अपने उसे राधा लिखा
खुद को मैंने कम उसे ज्यादा लिखा। जीस्त का हिस्सा उसे आधा लिखा। इश्क में उसके कृष्णा बन गया। प्यार में अपने उसे राधा लिखा
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
तुम ही सौलह श्रृंगार मेरे हो.....
तुम ही सौलह श्रृंगार मेरे हो.....
Neelam Sharma
(दम)
(दम)
महेश कुमार (हरियाणवी)
कू कू करती कोयल
कू कू करती कोयल
Mohan Pandey
// तुम सदा खुश रहो //
// तुम सदा खुश रहो //
Shivkumar barman
पढ़ना जरूर
पढ़ना जरूर
पूर्वार्थ
Loading...