Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

कश्मीर

*कुंडलिया*
भारत के दिवि की बहुत, बदल रही तस्वीर।
पाकिस्तानी पी जहर, धधक रहा कश्मीर।
धधक रहा कश्मीर, घिरी जन जन पर आफत।
कर दहशत का अंत, बनेगा दिवि कब भारत।
अंकित शर्मा’ इषुप्रिय’
रामपुर कलाँ,सबलगढ(म.प्र.)

200 Views
You may also like:
मजबूर ! मजदूर
शेख़ जाफ़र खान
मन की उलझने
Aditya Prakash
मैं इनकार में हूं
शिव प्रताप लोधी
तेरे रोने की आहट उसको भी सोने नहीं देती होगी
Krishan Singh
Love song
श्याम सिंह बिष्ट
जीवनदाता वृक्ष
AMRESH KUMAR VERMA
क्यों ना नये अनुभवों को अब साथ करें?
Manisha Manjari
आगे बढ़,मतदान करें।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
मैं पिता हूं।
Taj Mohammad
सत् हंसवाहनी वर दे,
Pt. Brajesh Kumar Nayak
कहां चला अरे उड़ कर पंछी
VINOD KUMAR CHAUHAN
🍀🌸🍀🌸आराधों नित सांय प्रात, मेरे सुतदेवकी🍀🌸🍀🌸
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
गुरु तेग बहादुर जी
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
तेरे दिल में कोई साजिश तो नहीं
Krishan Singh
प्रदीप छंद और विधाएं
Subhash Singhai
एक जंग, गम के संग....
Aditya Prakash
पिता
Rajiv Vishal
धन-दौलत
AMRESH KUMAR VERMA
उसूल
Ray's Gupta
बताओ तो जाने
Ram Krishan Rastogi
हो गई स्याह वह सुबह
gurudeenverma198
मैं बेटी हूँ।
Anamika Singh
"भोर"
Ajit Kumar "Karn"
सरस्वती कविता
Ankit Halke jha Official's
लगा हूँ...
Sandeep Albela
मानव तू हाड़ मांस का।
Taj Mohammad
त्याग की परिणति - कहानी
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
मेरी लेखनी
Anamika Singh
ताकि याद करें लोग हमारा प्यार
gurudeenverma198
मेरे पिता
rubichetanshukla रुबी चेतन शुक्ला
Loading...