Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
17 Jun 2016 · 1 min read

ग़ज़ल

उत्तर प्रदेश के कैराना की हालत को बयान करती एक ग़ज़ल
———————————————-
ग़ज़ल
—–
ज़ुबाँ पर ख़ौफ़ के ताले, दिलों में दर्दे रूखसत है।
बिकी जो मोल मिट्टी के, करोड़ों की विरासत है।

ये कैसे दौर से दो चार है तू, शहरे कैराना;
किसी पर मौत का साया, कहीं लुटने की दहशत है।

बचाकर जानो’ इज़्ज़त भागने की मुश्किलों में हम;
किसी को क्या बतायें, हर जगह ज़ालिम सियासत है।

भिड़ेगा कौन उन बेख़ौफ़ मुजरिम सरगनाओं से;
जिन्हें सत्ता की शह पर, मिल रही भरपूर ताक़त है।

पलायन की शिकायत भी किसी से कर नहीं सकते;
उन्हें ख़ामोश ही रहना है, ऐसी ही हिदायत है।

कई लोगों को तो ये सब, दिखाई ही नहीं देता;
अजब मासूमियत उनकी, ग़ज़ब उनकी नज़ाकत है।

हज़ारों हिन्दुओं की बेबसी पर, ऐसी ख़ामोशी;
भला है कौन कुर्सी पर, भला किसकी हुकूमत है।

कई कश्मीर गुपचुप पल रहे हैं देश के भीतर;
किसे तफ़तीश की फ़ुरसत, किसे इसकी इजाज़त है।

सियासतदान कुछ, इस देश को बरबाद कर देंगे;
कोई माने न माने, पर यही सच्ची हक़ीक़त है।

—-बृज राज किशोर

2 Comments · 296 Views
You may also like:
रंगोली (कुंडलिया )
Ravi Prakash
समझता है सबसे बड़ा हो गया।
सत्य कुमार प्रेमी
बाल मन
लक्ष्मी सिंह
करें नहीं ऐसे लालच हम
gurudeenverma198
प्रेम
Kanchan Khanna
जिन्दगी और चाहत
Anamika Singh
|| छत्रपति शिवाजी महाराज की समुद्री लड़ाई ||
Pravesh Shinde
रामभक्त शिव (108 दोहा छन्द)
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
✍️आसमाँ का हौसला देता है✍️
'अशांत' शेखर
🚩यौवन अतिशय ज्ञान-तेजमय हो, ऐसा विज्ञान चाहिए
Pt. Brajesh Kumar Nayak
माँ चंद्र घंटा
Vandana Namdev
भैंस के आगे बीन बजाना
Vishnu Prasad 'panchotiya'
मोहब्बत में।
Taj Mohammad
शायरी
श्याम सिंह बिष्ट
भारत के वर्तमान हालात
कवि दीपक बवेजा
कुंडलिया छंद
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
तुम ख़्याल हो
Dr fauzia Naseem shad
"वो पीला बल्ब"
Dr Meenu Poonia
गाँव के रंग में
सिद्धार्थ गोरखपुरी
संविधान बचाओ आंदोलन
Shekhar Chandra Mitra
✍️पढ़ रही हूं ✍️
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
ये दिल
shabina. Naaz
श्याम घनाक्षरी
सूर्यकांत द्विवेदी
हिंदी दिवस
Aditya Prakash
सावन में साजन को संदेश
Er.Navaneet R Shandily
भगवान जगन्नाथ रथ यात्रा
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
🌸🌼उनकी किस सादगी पर हम मचलते रहे🌼🌸
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
यह सिर्फ़ वर्दी नहीं, मेरी वो दौलत है जो मैंने...
Lohit Tamta
मै और तुम ( हास्य व्यंग )
Ram Krishan Rastogi
नवगीत---- जीवन का आर्तनाद
Sushila Joshi
Loading...