Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
1 Nov 2023 · 1 min read

” करवा चौथ वाली मेहंदी “

” करवा चौथ वाली मेहंदी ”
ब्याही आई जिस दिन मीनू ससुराल में
लुगाई बोली या बिंदणी तो सुंदर आई है
पढ़ी लिखी और बणी ठणी कद काठी
न्यू लागे जैसे स्वर्ग से परी उतर आई है,
राज की लाड़ली बन राज करेगी हमेशा
क्योंकि गोरे गोरे हाथों में मेहंदी गहराई है
लाख का चूड़ा पहन ऊपर से शर्माना मेरा
पड़ोसन बोली दुल्हन ने तो क़यामत ढाई है,
तरण ताल जॉय एडवेंचर का सुकून दे रहा
हल्की सर्दी और सूरज की किरण सुहाई है
प्राकृतिक आनंद और धीमा सा संगीत सुन
आज राज की पहली मुलाकात याद आई है,
पानी से जैसे ही बाहर निकल हाथ लहराया
राज बोला नजर ना लगे क्या मेहंदी रचाई है
नजरें टिकी रही मुझ पर तो थोड़ी शरमाई मैं
अरे साथ मेरे आज नाजुक हवा भी शरमाई है,
पुरानी याद साथ लाया आज ये करवा चौथ
बारह बरस के अंतर ने अब उम्र तो घटाई है
चेहरे पर असर जरूर हुआ थोड़ा सा लेकिन
रंगत मेहंदी की घटी नहीं वो ही गहराई हुई है,
मेरे राज की उम्र लंबी करना और स्वस्थ रखना
मालिक तुझसे करवा चौथ पर आस लगाई है
रिश्ते की धार अब ओर ज्यादा मजबूत करना
पूनिया ने आज तेरे दरबार में दरकास लगाई है।

Language: Hindi
1 Like · 169 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr Meenu Poonia
View all
You may also like:
23/197. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/197. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
"मन"
Dr. Kishan tandon kranti
ऐसे दर्शन सदा मिले
ऐसे दर्शन सदा मिले
पंकज पाण्डेय सावर्ण्य
परिस्थितियॉं बदल गईं ( लघु कथा)
परिस्थितियॉं बदल गईं ( लघु कथा)
Ravi Prakash
बारिश
बारिश
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
पथ सहज नहीं रणधीर
पथ सहज नहीं रणधीर
Shravan singh
बहुत गुमाँ है समुंदर को अपनी नमकीन जुबाँ का..!
बहुत गुमाँ है समुंदर को अपनी नमकीन जुबाँ का..!
'अशांत' शेखर
हम आज भी
हम आज भी
Dr fauzia Naseem shad
प्रेम की पेंगें बढ़ाती लड़की / मुसाफ़िर बैठा
प्रेम की पेंगें बढ़ाती लड़की / मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
!! सोपान !!
!! सोपान !!
Chunnu Lal Gupta
वचन दिवस
वचन दिवस
सत्य कुमार प्रेमी
भारत का लाल
भारत का लाल
Aman Sinha
प्रायश्चित
प्रायश्चित
Shyam Sundar Subramanian
अब तो इस वुज़ूद से नफ़रत होने लगी मुझे।
अब तो इस वुज़ूद से नफ़रत होने लगी मुझे।
Phool gufran
🙅भविष्यवाणी🙅
🙅भविष्यवाणी🙅
*Author प्रणय प्रभात*
💐प्रेम कौतुक-433💐
💐प्रेम कौतुक-433💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
खोखली बातें
खोखली बातें
Dr. Narendra Valmiki
यदि सफलता चाहते हो तो सफल लोगों के दिखाए और बताए रास्ते पर च
यदि सफलता चाहते हो तो सफल लोगों के दिखाए और बताए रास्ते पर च
dks.lhp
❤️एक अबोध बालक ❤️
❤️एक अबोध बालक ❤️
DR ARUN KUMAR SHASTRI
अंतस के उद्वेग हैं ,
अंतस के उद्वेग हैं ,
sushil sarna
सफ़र जिंदगी का (कविता)
सफ़र जिंदगी का (कविता)
Indu Singh
-- कैसा बुजुर्ग --
-- कैसा बुजुर्ग --
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
अगर कभी किस्मत से किसी रास्ते पर टकराएंगे
अगर कभी किस्मत से किसी रास्ते पर टकराएंगे
शेखर सिंह
इश्क़ है तो इश्क़ का इज़हार होना चाहिए
इश्क़ है तो इश्क़ का इज़हार होना चाहिए
पूर्वार्थ
अच्छे थे जब हम तन्हा थे, तब ये गम तो नहीं थे
अच्छे थे जब हम तन्हा थे, तब ये गम तो नहीं थे
gurudeenverma198
हमें अब राम के पदचिन्ह पर चलकर दिखाना है
हमें अब राम के पदचिन्ह पर चलकर दिखाना है
Dr Archana Gupta
शिक्षा
शिक्षा
Neeraj Agarwal
घुली अजब सी भांग
घुली अजब सी भांग
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
स्वस्थ तन
स्वस्थ तन
Sandeep Pande
मैंने खुद को जाना, सुना, समझा बहुत है
मैंने खुद को जाना, सुना, समझा बहुत है
सिद्धार्थ गोरखपुरी
Loading...