Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
8 Mar 2024 · 1 min read

“औरत ही रहने दो”

“औरत ही रहने दो”
सीता कह उपहास न करो
जो अपहृत हो जाई,
द्रौपदी हो गई अब बेमानी
कृष्ण कृपा न पाई।
वो दुर्गा या काली बनकर
बने भी क्यों हैरत,
उपमाओं की गठरी न लादो
बस रहने दो औरत।

3 Likes · 2 Comments · 88 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr. Kishan tandon kranti
View all
You may also like:
मेरी जिंदगी में मेरा किरदार बस इतना ही था कि कुछ अच्छा कर सकूँ
मेरी जिंदगी में मेरा किरदार बस इतना ही था कि कुछ अच्छा कर सकूँ
Jitendra kumar
साधना की मन सुहानी भोर से
साधना की मन सुहानी भोर से
OM PRAKASH MEENA
"तेरे बारे में"
Dr. Kishan tandon kranti
मन राम हो जाना ( 2 of 25 )
मन राम हो जाना ( 2 of 25 )
Kshma Urmila
एक सोच
एक सोच
Neeraj Agarwal
बचपन और पचपन
बचपन और पचपन
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
‘ विरोधरस ‘---4. ‘विरोध-रस’ के अन्य आलम्बन- +रमेशराज
‘ विरोधरस ‘---4. ‘विरोध-रस’ के अन्य आलम्बन- +रमेशराज
कवि रमेशराज
कमियाॅं अपनों में नहीं
कमियाॅं अपनों में नहीं
Harminder Kaur
दोहा
दोहा
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
मैं तो महज वक्त हूँ
मैं तो महज वक्त हूँ
VINOD CHAUHAN
स्त्री-देह का उत्सव / MUSAFIR BAITHA
स्त्री-देह का उत्सव / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
वर्तमान परिदृश्य में महाभारत (सरसी)
वर्तमान परिदृश्य में महाभारत (सरसी)
नाथ सोनांचली
शादी कुँवारे से हो या शादीशुदा से,
शादी कुँवारे से हो या शादीशुदा से,
Dr. Man Mohan Krishna
हर जगह मुहब्बत
हर जगह मुहब्बत
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
पवित्र होली का पर्व अपने अद्भुत रंगों से
पवित्र होली का पर्व अपने अद्भुत रंगों से
डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
बेकरार दिल
बेकरार दिल
Ritu Asooja
आंखों में नींद आती नही मुझको आजकल
आंखों में नींद आती नही मुझको आजकल
कृष्णकांत गुर्जर
2827. *पूर्णिका*
2827. *पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
प्यार मेरा बना सितारा है --
प्यार मेरा बना सितारा है --
Seema Garg
#मुक्तक
#मुक्तक
*प्रणय प्रभात*
ख्वाब हो गए हैं वो दिन
ख्वाब हो गए हैं वो दिन
shabina. Naaz
World Tobacco Prohibition Day
World Tobacco Prohibition Day
Tushar Jagawat
माँ
माँ
Arvina
"इशारे" कविता
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
कहना क्या
कहना क्या
Awadhesh Singh
विचार
विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
आप आज शासक हैं
आप आज शासक हैं
DrLakshman Jha Parimal
दिल नहीं
दिल नहीं
Dr fauzia Naseem shad
*शाश्वत जीवन-सत्य समझ में, बड़ी देर से आया (हिंदी गजल)*
*शाश्वत जीवन-सत्य समझ में, बड़ी देर से आया (हिंदी गजल)*
Ravi Prakash
नृत्य किसी भी गीत और संस्कृति के बोल पर आधारित भावना से ओतप्
नृत्य किसी भी गीत और संस्कृति के बोल पर आधारित भावना से ओतप्
Rj Anand Prajapati
Loading...