Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
22 Feb 2023 · 1 min read

💐प्रेम कौतुक-227💐

इश्क़ में कोई कितनी दूरी है,तुम भले मानो,
इश्क़ में कोई दूरी नहीं है, तुम भले मानो।

©®अभिषेक:पाराशरः”आनन्द”

Language: Hindi
205 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
बुंदेली दोहा- गरे गौ (भाग-1)
बुंदेली दोहा- गरे गौ (भाग-1)
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
ग़ज़ल
ग़ज़ल
ईश्वर दयाल गोस्वामी
8) दिया दर्द वो
8) दिया दर्द वो
पूनम झा 'प्रथमा'
हुई बरसात टूटा इक पुराना, पेड़ था आख़िर
हुई बरसात टूटा इक पुराना, पेड़ था आख़िर
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
Exam Stress
Exam Stress
Tushar Jagawat
#दोहा
#दोहा
*प्रणय प्रभात*
భరత మాతకు వందనం
భరత మాతకు వందనం
डॉ गुंडाल विजय कुमार 'विजय'
!! युवा मन !!
!! युवा मन !!
Akash Yadav
वो लुका-छिपी वो दहकता प्यार—
वो लुका-छिपी वो दहकता प्यार—
Shreedhar
बेटियां
बेटियां
Mukesh Kumar Sonkar
मंगल दीप जलाओ रे
मंगल दीप जलाओ रे
नेताम आर सी
दोस्त कहता है मेरा खुद को तो
दोस्त कहता है मेरा खुद को तो
Seema gupta,Alwar
न जाने कौन रह गया भीगने से शहर में,
न जाने कौन रह गया भीगने से शहर में,
शेखर सिंह
मेरी नज्म, मेरी ग़ज़ल, यह शायरी
मेरी नज्म, मेरी ग़ज़ल, यह शायरी
VINOD CHAUHAN
समझना है ज़रूरी
समझना है ज़रूरी
Dr fauzia Naseem shad
चंद सिक्कों की खातिर
चंद सिक्कों की खातिर
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
अगर प्यार  की राह  पर हम चलेंगे
अगर प्यार की राह पर हम चलेंगे
Dr Archana Gupta
तमन्ना उसे प्यार से जीत लाना।
तमन्ना उसे प्यार से जीत लाना।
सत्य कुमार प्रेमी
प्रेम की साधना (एक सच्ची प्रेमकथा पर आधारित)
प्रेम की साधना (एक सच्ची प्रेमकथा पर आधारित)
गुमनाम 'बाबा'
केतकी का अंश
केतकी का अंश
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
प्रश्न - दीपक नीलपदम्
प्रश्न - दीपक नीलपदम्
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
****🙏🏻आह्वान🙏🏻****
****🙏🏻आह्वान🙏🏻****
निरंजन कुमार तिलक 'अंकुर'
सुन लो बच्चों
सुन लो बच्चों
लक्ष्मी सिंह
*मीठे बोल*
*मीठे बोल*
Poonam Matia
"ज्ञान-दीप"
Dr. Kishan tandon kranti
कभी कभी प्रतीक्षा
कभी कभी प्रतीक्षा
पूर्वार्थ
शहर की गर्मी में वो छांव याद आता है, मस्ती में बीता जहाँ बचप
शहर की गर्मी में वो छांव याद आता है, मस्ती में बीता जहाँ बचप
Shubham Pandey (S P)
मजदूर
मजदूर
Preeti Sharma Aseem
2621.पूर्णिका
2621.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
अच्छाई बनाम बुराई :- [ अच्छाई का फल ]
अच्छाई बनाम बुराई :- [ अच्छाई का फल ]
Surya Barman
Loading...