Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
12 Apr 2023 · 1 min read

आत्मा शरीर और मन

आत्मा शरीर और मन

पंचतत्व से निर्मित है,मानव शरीर हमारा
नश्वर हैं पंचतत्व, नश्वर है संसार ये सारा
शाश्वत आत्मा जब तक है, जीवित है शरीर हमारा
हर एक जीवित मानव तन में,अमर आत्मा रहती है
हर दिन हर घड़ी आत्मा, हमसे कुछ कहती रहती है
सुनते नहीं आत्मा की,हम अक्सर मन की करते हैं
मन रहता है भौतिकता में,हम उसके पीछे फिरते हैं
क्षणिक वासना कामनाओं में, जीवन खोते रहते हैं
आत्म उन्नति परमात्मप्राप्ति, आत्मा कहती रहती है
अनसुनी कर आत्मा को, इच्छा इंद्रियों में वहती है
सद्गुरु ध्यान अभ्यास से,मन पर नियंत्रण होता है
आध्यात्मिक उन्नति और परमात्मा मिलन तब होता है
सुनता नहीं आत्मा की जो, व्यर्थ ही जीवन खोता है
सुरेश कुमार चतुर्वेदी

1 Like · 667 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from सुरेश कुमार चतुर्वेदी
View all
You may also like:
#शेर-
#शेर-
*Author प्रणय प्रभात*
*वाह-वाह क्या बात ! (कुंडलिया)*
*वाह-वाह क्या बात ! (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
"कभी मेरा ज़िक्र छीड़े"
Lohit Tamta
मातु शारदे करो कल्याण....
मातु शारदे करो कल्याण....
डॉ.सीमा अग्रवाल
দারিদ্রতা ,রঙ্গভেদ ,
দারিদ্রতা ,রঙ্গভেদ ,
DrLakshman Jha Parimal
We Would Be Connected Actually
We Would Be Connected Actually
Manisha Manjari
कामयाबी
कामयाबी
DR ARUN KUMAR SHASTRI
Ishq ke panne par naam tera likh dia,
Ishq ke panne par naam tera likh dia,
Chinkey Jain
??????...
??????...
शेखर सिंह
2580.पूर्णिका
2580.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
सात सवाल
सात सवाल
रोहताश वर्मा 'मुसाफिर'
विद्यार्थी के मन की थकान
विद्यार्थी के मन की थकान
पूर्वार्थ
.        ‼️🌹जय श्री कृष्ण🌹‼️
. ‼️🌹जय श्री कृष्ण🌹‼️
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
भावनात्मक निर्भरता
भावनात्मक निर्भरता
Davina Amar Thakral
*सपनों का बादल*
*सपनों का बादल*
Poonam Matia
एक समय के बाद
एक समय के बाद
हिमांशु Kulshrestha
बदलाव
बदलाव
Dr. Rajeev Jain
सुलगते एहसास
सुलगते एहसास
Surinder blackpen
अपभ्रंश-अवहट्ट से,
अपभ्रंश-अवहट्ट से,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
"ज्ञान-दीप"
Dr. Kishan tandon kranti
तुम वोट अपना मत बेच देना
तुम वोट अपना मत बेच देना
gurudeenverma198
जिंदगी में सिर्फ हम ,
जिंदगी में सिर्फ हम ,
Neeraj Agarwal
मिसाल उन्हीं की बनती है,
मिसाल उन्हीं की बनती है,
Dr. Man Mohan Krishna
*जब हो जाता है प्यार किसी से*
*जब हो जाता है प्यार किसी से*
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
ज़िंदगी उससे है मेरी, वो मेरा दिलबर रहे।
ज़िंदगी उससे है मेरी, वो मेरा दिलबर रहे।
सत्य कुमार प्रेमी
तेरी खुशी
तेरी खुशी
Dr fauzia Naseem shad
वक्त से वक्त को चुराने चले हैं
वक्त से वक्त को चुराने चले हैं
Harminder Kaur
Ranjeet Shukla
Ranjeet Shukla
Ranjeet Kumar Shukla
चाय पे चर्चा
चाय पे चर्चा
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
देश के दुश्मन सिर्फ बॉर्डर पर ही नहीं साहब,
देश के दुश्मन सिर्फ बॉर्डर पर ही नहीं साहब,
राजेश बन्छोर
Loading...