Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
2 Mar 2023 · 1 min read

#आज_की_बात

■ आज_की_बात
तमाम बार हमें सामाजिकता विरुद्ध बर्ताब का सामना करना पड़ता है। इसका मतलब यह नहीं कि हम भी असामाजिक हो जाएं। हमारा दायित्व अपने भाव और स्वभाव को बनाए रखना है। यदि वो अच्छा हो तो।
【प्रणय प्रभात】

1 Like · 153 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
"मौत को दावत"
Dr. Kishan tandon kranti
उसकी बेहिसाब नेमतों का कोई हिसाब नहीं
उसकी बेहिसाब नेमतों का कोई हिसाब नहीं
shabina. Naaz
गुरु से बडा न कोय🌿🙏🙏
गुरु से बडा न कोय🌿🙏🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
मुहब्बत की दुकान
मुहब्बत की दुकान
Shekhar Chandra Mitra
*तन मिट्टी का पुतला,मन शीतल दर्पण है*
*तन मिट्टी का पुतला,मन शीतल दर्पण है*
sudhir kumar
तस्वीर!
तस्वीर!
कविता झा ‘गीत’
यादों के बादल
यादों के बादल
singh kunwar sarvendra vikram
यारा ग़म नहीं अब किसी बात का।
यारा ग़म नहीं अब किसी बात का।
rajeev ranjan
नारी क्या है
नारी क्या है
Ram Krishan Rastogi
मुझसे जुदा होने से पहले, लौटा दे मेरा प्यार वह मुझको
मुझसे जुदा होने से पहले, लौटा दे मेरा प्यार वह मुझको
gurudeenverma198
ବାତ୍ୟା ସ୍ଥିତି
ବାତ୍ୟା ସ୍ଥିତି
Otteri Selvakumar
करवाचौथ
करवाचौथ
Surinder blackpen
विचार
विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
दिल में उम्मीदों का चराग़ लिए
दिल में उम्मीदों का चराग़ लिए
_सुलेखा.
राजनीति
राजनीति
Bodhisatva kastooriya
तंग अंग  देख कर मन मलंग हो गया
तंग अंग देख कर मन मलंग हो गया
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
आहिस्था चल जिंदगी
आहिस्था चल जिंदगी
Rituraj shivem verma
तुम तो ठहरे परदेशी
तुम तो ठहरे परदेशी
विशाल शुक्ल
सत्तावन की क्रांति का ‘ एक और मंगल पांडेय ’
सत्तावन की क्रांति का ‘ एक और मंगल पांडेय ’
कवि रमेशराज
कोरे पन्ने
कोरे पन्ने
Dr. Seema Varma
तुमको खोकर
तुमको खोकर
Dr fauzia Naseem shad
23/84.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/84.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
* सड़ जी नेता हुए *
* सड़ जी नेता हुए *
Mukta Rashmi
अपनों की जीत
अपनों की जीत
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
हमारी मंजिल को एक अच्छा सा ख्वाब देंगे हम!
हमारी मंजिल को एक अच्छा सा ख्वाब देंगे हम!
Diwakar Mahto
#मायका #
#मायका #
rubichetanshukla 781
आँखों की गहराइयों में बसी वो ज्योत,
आँखों की गहराइयों में बसी वो ज्योत,
Sahil Ahmad
♥️♥️ Dr. Arun Kumar shastri
♥️♥️ Dr. Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
उन सड़कों ने प्रेम जिंदा रखा है
उन सड़कों ने प्रेम जिंदा रखा है
Arun Kumar Yadav
*मृत्यु : पॉंच दोहे*
*मृत्यु : पॉंच दोहे*
Ravi Prakash
Loading...