Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
18 Mar 2023 · 1 min read

💐प्रेम कौतुक-463💐

आज दिन मेरा बड़ा तन्हा गुजरा,
इक पयाम भी न नज़र से गुजरा,
वो परख रहें हैं मेरी तकलीफ़ को,
ये क़ाफ़िया मेरे दिल से जब गुजरा।।

©®अभिषेक: पाराशरः “आनन्द”

Language: Hindi
279 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
अनकहे शब्द बहुत कुछ कह कर जाते हैं।
अनकहे शब्द बहुत कुछ कह कर जाते हैं।
Manisha Manjari
💐प्रेम कौतुक-543💐
💐प्रेम कौतुक-543💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
लाल बचा लो इसे जरा👏
लाल बचा लो इसे जरा👏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
कपूत।
कपूत।
Acharya Rama Nand Mandal
महिमा है सतनाम की
महिमा है सतनाम की
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
" अब कोई नया काम कर लें "
DrLakshman Jha Parimal
उफ़ तेरी ये अदायें सितम ढा रही है।
उफ़ तेरी ये अदायें सितम ढा रही है।
Phool gufran
जय मातु! ब्रह्मचारिणी,
जय मातु! ब्रह्मचारिणी,
Neelam Sharma
शहर - दीपक नीलपदम्
शहर - दीपक नीलपदम्
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
अब तो ऐसा कोई दिया जलाया जाये....
अब तो ऐसा कोई दिया जलाया जाये....
shabina. Naaz
भगवान
भगवान
Anil chobisa
■  आज का लॉजिक
■ आज का लॉजिक
*Author प्रणय प्रभात*
बरसात
बरसात
surenderpal vaidya
संकल्प
संकल्प
Shyam Sundar Subramanian
हाइकु
हाइकु
अशोक कुमार ढोरिया
रफ़्ता रफ़्ता (एक नई ग़ज़ल)
रफ़्ता रफ़्ता (एक नई ग़ज़ल)
Vinit kumar
उसका आना
उसका आना
हिमांशु Kulshrestha
2285.
2285.
Dr.Khedu Bharti
अपना सफ़र है
अपना सफ़र है
Surinder blackpen
अंधेरों में अंधकार से ही रहा वास्ता...
अंधेरों में अंधकार से ही रहा वास्ता...
कवि दीपक बवेजा
ये किस धर्म के लोग हैं
ये किस धर्म के लोग हैं
gurudeenverma198
संक्रांति
संक्रांति
Harish Chandra Pande
"समय से बड़ा जादूगर दूसरा कोई नहीं,
Tarun Singh Pawar
तेवरी में रागात्मक विस्तार +रमेशराज
तेवरी में रागात्मक विस्तार +रमेशराज
कवि रमेशराज
पीने -पिलाने की आदत तो डालो
पीने -पिलाने की आदत तो डालो
सिद्धार्थ गोरखपुरी
अजीब करामात है
अजीब करामात है
शेखर सिंह
साथ मेरे था
साथ मेरे था
Dr fauzia Naseem shad
आंख बंद करके जिसको देखना आ गया,
आंख बंद करके जिसको देखना आ गया,
Ashwini Jha
लक्ष्य
लक्ष्य
लक्ष्मी सिंह
डा० अरुण कुमार शास्त्री
डा० अरुण कुमार शास्त्री
DR ARUN KUMAR SHASTRI
Loading...