Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
18 Feb 2024 · 1 min read

आज आचार्य विद्यासागर जी कर गए महाप्रयाण।

आज आचार्य विद्यासागर जी कर गए महाप्रयाण।
जनप्रिय संत शिरोमणि को, कोटि कोटि प्रणाम।।
अपनी ओज पूर्ण वाणी से,दे गए नया मुकाम ।
याद रहेंगे जन जन को, उनके दिए हुए अवदान।।
देश और दुनिया में था,उनका ऊंचा नाम।
उनके वचनों से पाएंगे,जन जन नया मुकाम।।
श्रद्धांजलि श्री चरणों में, बारंबार प्रणाम।।
सुरेश कुमार चतुर्वेदी

164 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from सुरेश कुमार चतुर्वेदी
View all
You may also like:
𑒚𑒰𑒧-𑒚𑒰𑒧 𑒁𑒏𑒩𑓂𑒧𑒝𑓂𑒨𑒞𑒰 𑒏, 𑒯𑒰𑒙 𑒮𑒥 𑒪𑒰𑒑𑒪 𑒁𑒕𑒱 !
𑒚𑒰𑒧-𑒚𑒰𑒧 𑒁𑒏𑒩𑓂𑒧𑒝𑓂𑒨𑒞𑒰 𑒏, 𑒯𑒰𑒙 𑒮𑒥 𑒪𑒰𑒑𑒪 𑒁𑒕𑒱 !
DrLakshman Jha Parimal
पांव में मेंहदी लगी है
पांव में मेंहदी लगी है
Surinder blackpen
तेरी यादें भुलाने का इक तरीका बड़ा पुराना है,
तेरी यादें भुलाने का इक तरीका बड़ा पुराना है,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
मीठे बोल या मीठा जहर
मीठे बोल या मीठा जहर
विजय कुमार अग्रवाल
मलाल न था
मलाल न था
Dr fauzia Naseem shad
दीपों की माला
दीपों की माला
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
"चिन्हों में आम"
Dr. Kishan tandon kranti
Khuch rishte kbhi bhulaya nhi karte ,
Khuch rishte kbhi bhulaya nhi karte ,
Sakshi Tripathi
देखिए लोग धोखा गलत इंसान से खाते हैं
देखिए लोग धोखा गलत इंसान से खाते हैं
शेखर सिंह
🥀 *गुरु चरणों की धूल*🥀
🥀 *गुरु चरणों की धूल*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
दिल का हर अरमां।
दिल का हर अरमां।
Taj Mohammad
2435.पूर्णिका
2435.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
नारी
नारी
Suman (Aditi Angel 🧚🏻)
नारी शक्ति
नारी शक्ति
DR ARUN KUMAR SHASTRI
हिन्दी दोहा-विश्वास
हिन्दी दोहा-विश्वास
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
*वरिष्ठ नागरिक (हास्य कुंडलिया)*
*वरिष्ठ नागरिक (हास्य कुंडलिया)*
Ravi Prakash
#लघु_कविता-
#लघु_कविता-
*प्रणय प्रभात*
गाय
गाय
Vedha Singh
बेरोज़गारी का प्रच्छन्न दैत्य
बेरोज़गारी का प्रच्छन्न दैत्य
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
वर्षा
वर्षा
Dr. Pradeep Kumar Sharma
न्याय होता है
न्याय होता है
हिमांशु बडोनी (दयानिधि)
दुनिया में सब ही की तरह
दुनिया में सब ही की तरह
डी. के. निवातिया
बेपनाह थी मोहब्बत, गर मुकाम मिल जाते
बेपनाह थी मोहब्बत, गर मुकाम मिल जाते
Aditya Prakash
मौन जीव के ज्ञान को, देता  अर्थ विशाल ।
मौन जीव के ज्ञान को, देता अर्थ विशाल ।
sushil sarna
क्या मिटायेंगे भला हमको वो मिटाने वाले .
क्या मिटायेंगे भला हमको वो मिटाने वाले .
Shyamsingh Lodhi Rajput (Tejpuriya)
चंचल मन***चंचल मन***
चंचल मन***चंचल मन***
Dinesh Kumar Gangwar
!! पर्यावरण !!
!! पर्यावरण !!
Chunnu Lal Gupta
बहना तू सबला बन 🙏🙏
बहना तू सबला बन 🙏🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
**वसन्त का स्वागत है*
**वसन्त का स्वागत है*
Mohan Pandey
माँ दुर्गा की नारी शक्ति
माँ दुर्गा की नारी शक्ति
कवि रमेशराज
Loading...