Jul 4, 2021 · 1 min read

Nobility

Nobility of my character
May thus be rated:
I embrace to them also
Whom entire society humiliated.
If you seek my help,
You will definitely be co-operated.
For, I am here not to dominate
Not to be dominated.

I open my heart for those
who close their eyes for me,
To those deserted and hurted deep
I share my flowery lea.
To them who hit a stone, I bless
with sweety fruits as doth a tree,
For I am here to share to all
My love, compassion and sympathy.
🤗🤗🤗🧡💛💝💦💨✨
Nectar

2 Likes · 1 Comment · 185 Views
You may also like:
तलाश
Dr. Rajeev Jain
चूँ-चूँ चूँ-चूँ आयी चिड़िया
Pt. Brajesh Kumar Nayak
*•* रचा है जो परमेश्वर तुझको *•*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
समीक्षा -'रचनाकार पत्रिका' संपादक 'संजीत सिंह यश'
Rashmi Sanjay
My Expressions
Shyam Sundar Subramanian
फिर से खो गया है।
Taj Mohammad
रफ़्तार के लिए (ghazal by Vinit Singh Shayar)
Vinit Singh
वेदना
Archana Shukla "Abhidha"
विश्व विजेता कपिल देव
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
श्री राम
नवीन जोशी 'नवल'
*अनुशासन के पर्याय अध्यापक श्री लाल सिंह जी : शत...
Ravi Prakash
यह तो वक़्त ही बतायेगा
gurudeenverma198
दुनिया पहचाने हमें जाने के बाद...
Dr. Alpa H.
सूरज काका
Dr Archana Gupta
ये शिक्षामित्र है भाई कि इसमें जान थोड़ी है
आकाश महेशपुरी
My Expressions
Shyam Sundar Subramanian
🍀🌺प्रेम की राह पर-44🍀🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
कविता पर दोहे
Ram Krishan Rastogi
💐ये मेरी आशिकी💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
पुस्तक समीक्षा- बुंदेलखंड के आधुनिक युग
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
पिता की छाँव...
मनोज कर्ण
अँधेरा बन के बैठा है
आकाश महेशपुरी
सच ही तो है हर आंसू में एक कहानी है
VINOD KUMAR CHAUHAN
पिता का साया हूँ
N.ksahu0007@writer
मेरी भोली “माँ” (सहित्यपीडिया काव्य प्रतियोगिता)
पाण्डेय चिदानन्द
वार्तालाप….
Piyush Goel
गुरुजी!
Vishnu Prasad 'panchotiya'
एक मुर्गी की दर्द भरी दास्तां
ओनिका सेतिया 'अनु '
तुम जो मिल गई हो।
Taj Mohammad
मेरा गुरूर है पिता
VINOD KUMAR CHAUHAN
Loading...