Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
30 Jun 2023 · 1 min read

2366.पूर्णिका

2366.पूर्णिका
🌷कोई भंवर में छोड़ देते हैं 🌷
22 22 2212 22
कोई भंवर में छोड़ देते हैं ।
शीशा सा यूं दिल तोड़ देते हैं ।।
दामन में दाग लगा जहाँ देखो ।
आज जमाना सर फोड़ देते हैं ।।
चाहत अपनी मंजिल मिले यारों ।
कैसें राह नया मोड़ देते हैं ।।
परवाह नहीं करते यहाँ जां की ।
सच बहते खून निचोड़ देते हैं ।।
दुनिया भाग रही जिंदगी खेदू ।
दूना भाग घटा जोड़ देते हैं ।।
……….✍डॉ .खेदू भारती “सत्येश”
30-6-2023शुक्रवार

1 Like · 396 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
पधारो मेरे प्रदेश तुम, मेरे राजस्थान में
पधारो मेरे प्रदेश तुम, मेरे राजस्थान में
gurudeenverma198
306.*पूर्णिका*
306.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
श्राद्ध
श्राद्ध
Mukesh Kumar Sonkar
गुम है सरकारी बजट,
गुम है सरकारी बजट,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
ज़िंदगी फिर भी हमें
ज़िंदगी फिर भी हमें
Dr fauzia Naseem shad
दर्पण
दर्पण
लक्ष्मी सिंह
"अहसास मरता नहीं"
Dr. Kishan tandon kranti
*सुबह हुई तो सबसे पहले, पढ़ते हम अखबार हैं (हिंदी गजल)*
*सुबह हुई तो सबसे पहले, पढ़ते हम अखबार हैं (हिंदी गजल)*
Ravi Prakash
मातृ दिवस या मात्र दिवस ?
मातृ दिवस या मात्र दिवस ?
विशाल शुक्ल
जीवन
जीवन
Monika Verma
बचपन की यादों को यारो मत भुलना
बचपन की यादों को यारो मत भुलना
Ram Krishan Rastogi
■ विशेष दोहा...
■ विशेष दोहा...
*Author प्रणय प्रभात*
*सवर्ण (उच्च जाति)और शुद्र नीच (जाति)*
*सवर्ण (उच्च जाति)और शुद्र नीच (जाति)*
Rituraj shivem verma
⚘️महाशिवरात्रि मेरे लेख🌿
⚘️महाशिवरात्रि मेरे लेख🌿
Ms.Ankit Halke jha
जबसे उनको रकीब माना है।
जबसे उनको रकीब माना है।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
जब स्वयं के तन पर घाव ना हो, दर्द समझ नहीं आएगा।
जब स्वयं के तन पर घाव ना हो, दर्द समझ नहीं आएगा।
Manisha Manjari
उनसे बिछड़ कर ना जाने फिर कहां मिले
उनसे बिछड़ कर ना जाने फिर कहां मिले
श्याम सिंह बिष्ट
तू है तसुव्वर में तो ए खुदा !
तू है तसुव्वर में तो ए खुदा !
ओनिका सेतिया 'अनु '
।। श्री सत्यनारायण ब़त कथा महात्तम।।
।। श्री सत्यनारायण ब़त कथा महात्तम।।
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
पद्मावती पिक्चर के बहाने
पद्मावती पिक्चर के बहाने
Manju Singh
भाग दौड़ की जिंदगी में अवकाश नहीं है ,
भाग दौड़ की जिंदगी में अवकाश नहीं है ,
Seema gupta,Alwar
*हमारे कन्हैया*
*हमारे कन्हैया*
Dr. Vaishali Verma
Irritable Bowel Syndrome
Irritable Bowel Syndrome
Tushar Jagawat
बस जाओ मेरे मन में , स्वामी होकर हे गिरधारी
बस जाओ मेरे मन में , स्वामी होकर हे गिरधारी
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
बातें नहीं, काम बड़े करिए, क्योंकि लोग सुनते कम और देखते ज्य
बातें नहीं, काम बड़े करिए, क्योंकि लोग सुनते कम और देखते ज्य
Dr. Pradeep Kumar Sharma
नारी शक्ति
नारी शक्ति
DR ARUN KUMAR SHASTRI
उल्लाला छंद विधान (चन्द्रमणि छन्द) सउदाहरण
उल्लाला छंद विधान (चन्द्रमणि छन्द) सउदाहरण
Subhash Singhai
जिंदगी में दो ही लम्हे,
जिंदगी में दो ही लम्हे,
Prof Neelam Sangwan
कसरत करते जाओ
कसरत करते जाओ
Harish Chandra Pande
जब बातेंं कम हो जाती है अपनों की,
जब बातेंं कम हो जाती है अपनों की,
Dr. Man Mohan Krishna
Loading...