Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
7 Feb 2024 · 1 min read

18)”योद्धा”

संकट का दौर,योद्धा ने नहीं छोड़ी कोई दौड़।
परवाह नहीं जान की, फ़िक्र ईमान की,
योद्धा है ऐसा,रखता अपनी एक पहचान सी।

सैनिक का रूप है तेरा..
कर्तव्य पालन,ईमानदारी का डेरा,
जूझता रहता चाहे हो अंधेरा।
जंग है जीतनी, देश का रखता मान,
सेना के जज़्बे को करो सलाम।

संकट का दौर,योद्धा ने नहीं छोड़ी कोई दौड़।

डॉक्टर का रूप है तेरा..
वॉरियर का लिबास है घेरा।
परवाह नहीं परिवार की,
दिन-रात करता फ़िक्र,
संक्रमित मरीज़ों के ईलाज की।

नर्स, वार्डबॉय हैं साथ,सेवा भाव मन में धारे,
सफ़ाई कर्मचारी भी सारे,योद्धा हैं हमारे।

संकट का दौर,योद्धा ने नही छोड़ी कोई दौड़।

पुलिस का लिबास है पहना..
सुरक्षाकर्मी बन कर,
अथक ज़िम्मेदारी वं कर्तव्य को पहचाना।
आना और जाना, नहीं करता कोई बहाना।।

संकट का दौर,योद्धा ने नही छोड़ी कोई दौड़।

योद्धा हैं सब,इस संकट काल में,
देश के बचाव में।
चाहे हों…
दूध के भईया यां सब्ज़ी बेचती मईया,
रिक्शा चलाते, सवारी बिठाते,
सब हैं योद्धा की क़तार में।

योद्धा ही तो हैं सब,कहाँ रुक पा रहे,
कर्म संग, बचते और बचाते, चलते ही जा रहे।

संकट का दौर,योद्धा ने नहीं छोड़ी कोई दौड़।।

✍🏻स्व-रचित/मौलिक
सपना अरोरा ।

Language: Hindi
50 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
The story of the two boy
The story of the two boy
DARK EVIL
कहां जाके लुकाबों
कहां जाके लुकाबों
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
कई आबादियों में से कोई आबाद होता है।
कई आबादियों में से कोई आबाद होता है।
Sanjay ' शून्य'
In the rainy season, get yourself drenched
In the rainy season, get yourself drenched
Dhriti Mishra
"बल और बुद्धि"
Dr. Kishan tandon kranti
मात्र नाम नहीं तुम
मात्र नाम नहीं तुम
Mamta Rani
जिसने सिखली अदा गम मे मुस्कुराने की.!!
जिसने सिखली अदा गम मे मुस्कुराने की.!!
शेखर सिंह
वापस
वापस
Harish Srivastava
विश्वास
विश्वास
विजय कुमार अग्रवाल
3157.*पूर्णिका*
3157.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
हाथों में गुलाब🌹🌹
हाथों में गुलाब🌹🌹
Chunnu Lal Gupta
चाय-दोस्ती - कविता
चाय-दोस्ती - कविता
Kanchan Khanna
मैं नहीं हो सका, आपका आदतन
मैं नहीं हो सका, आपका आदतन
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
।।अथ श्री सत्यनारायण कथा तृतीय अध्याय।।
।।अथ श्री सत्यनारायण कथा तृतीय अध्याय।।
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
तभी लोगों ने संगठन बनाए होंगे
तभी लोगों ने संगठन बनाए होंगे
Maroof aalam
जय मातु! ब्रह्मचारिणी,
जय मातु! ब्रह्मचारिणी,
Neelam Sharma
अपने वतन पर सरफ़रोश
अपने वतन पर सरफ़रोश
gurudeenverma198
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
#कालचक्र
#कालचक्र
*Author प्रणय प्रभात*
Hello
Hello
Yash mehra
जिन्दगी
जिन्दगी
Bodhisatva kastooriya
पग बढ़ाते चलो
पग बढ़ाते चलो
surenderpal vaidya
130 किताबें महिलाओं के नाम
130 किताबें महिलाओं के नाम
अरशद रसूल बदायूंनी
हिसका (छोटी कहानी) / मुसाफ़िर बैठा
हिसका (छोटी कहानी) / मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
तुम कभी यह चिंता मत करना कि हमारा साथ यहाँ कौन देगा कौन नहीं
तुम कभी यह चिंता मत करना कि हमारा साथ यहाँ कौन देगा कौन नहीं
Dr. Man Mohan Krishna
या रब
या रब
Shekhar Chandra Mitra
जीवन तेरी नयी धुन
जीवन तेरी नयी धुन
कार्तिक नितिन शर्मा
हनुमानजी
हनुमानजी
सत्यम प्रकाश 'ऋतुपर्ण'
🌺प्रेम कौतुक-206🌺
🌺प्रेम कौतुक-206🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
हे राम,,,,,,,,,सहारा तेरा है।
हे राम,,,,,,,,,सहारा तेरा है।
Sunita Gupta
Loading...