Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
4 Feb 2024 · 1 min read

15)”शिक्षक”

रोशन कर दें सारा जहान..
चाहे कहो शिक्षक यां कहो विद्वान।
प्रत्येक मार्ग का करते कल्याण संग रहता सुदृढ़ ज्ञान।

नहीं होते साधारण शिक्षक…
निर्माण का होते कारक शिक्षक।
सामाजिक कुशलता का विकास करते,
स्वच्छ समाज का सृजन करते शिक्षक।
ज्योति विद्या की जला कर,
शिष्यों का कल्याण करते शिक्षक।

क्षमा याचना का भाव सिखाकर,
कामयाबी के मुक़ाम तक,पहुँचाते शिक्षक।
कला वं विज्ञान भी शिक्षक,
हर विषय की पहचान शिक्षक।
धरती पर भेजा दूत है शिक्षक,
राष्ट्र को वास्तविक विकास वं वृद्दि की ओर ले जाते शिक्षक।

मात-पिता पहले शिक्षक,चलना बोलना सिखाते हैं।
स्कूल की दहलीज़ पर चढ़ कर,
अध्यापक गुरु शिक्षक,शिक्षा पाठ पढ़ाते हैं॥

“मान शिक्षक,अभिमान शिक्षक,हमारी पहचान हैं शिक्षक”

✍🏻स्व-रचित/मौलिक
सपना अरोरा ।

Language: Hindi
1 Like · 75 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Sapna Arora
View all
You may also like:
गुनगुनाने यहां लगा, फिर से एक फकीर।
गुनगुनाने यहां लगा, फिर से एक फकीर।
Suryakant Dwivedi
एक रूपक ज़िन्दगी का,
एक रूपक ज़िन्दगी का,
Radha shukla
ओ! महानगर
ओ! महानगर
Punam Pande
आज के युग का सबसे बड़ा दुर्भाग्य ये है
आज के युग का सबसे बड़ा दुर्भाग्य ये है
पूर्वार्थ
*कण-कण में भगवान हैं, कण-कण में प्रभु राम (कुंडलिया)*
*कण-कण में भगवान हैं, कण-कण में प्रभु राम (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
मानव-जीवन से जुड़ा, कृत कर्मों का चक्र।
मानव-जीवन से जुड़ा, कृत कर्मों का चक्र।
डॉ.सीमा अग्रवाल
जिस दिन
जिस दिन
Santosh Shrivastava
उस दर पे कदम मत रखना
उस दर पे कदम मत रखना
gurudeenverma198
ज़िंदगी के सौदागर
ज़िंदगी के सौदागर
Shyam Sundar Subramanian
3298.*पूर्णिका*
3298.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
स्वयं पर नियंत्रण कर विजय प्राप्त करने वाला व्यक्ति उस व्यक्
स्वयं पर नियंत्रण कर विजय प्राप्त करने वाला व्यक्ति उस व्यक्
Paras Nath Jha
आज़ादी के दीवाने
आज़ादी के दीवाने
करन ''केसरा''
पंचवक्त्र महादेव
पंचवक्त्र महादेव
surenderpal vaidya
मतदान से, हर संकट जायेगा;
मतदान से, हर संकट जायेगा;
पंकज कुमार कर्ण
मन मंदिर के कोने से 💺🌸👪
मन मंदिर के कोने से 💺🌸👪
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
........,?
........,?
शेखर सिंह
हरि का घर मेरा घर है
हरि का घर मेरा घर है
Vandna thakur
..
..
*प्रणय प्रभात*
आए हैं रामजी
आए हैं रामजी
SURYA PRAKASH SHARMA
अनचाहे फूल
अनचाहे फूल
SATPAL CHAUHAN
#छंद के लक्षण एवं प्रकार
#छंद के लक्षण एवं प्रकार
आर.एस. 'प्रीतम'
जीवन की सुरुआत और जीवन का अंत
जीवन की सुरुआत और जीवन का अंत
Rituraj shivem verma
हो जाती है साँझ
हो जाती है साँझ
sushil sarna
मुक्तक
मुक्तक
Neelofar Khan
वन  मोर  नचे  घन  शोर  करे, जब  चातक दादुर  गीत सुनावत।
वन मोर नचे घन शोर करे, जब चातक दादुर गीत सुनावत।
संजीव शुक्ल 'सचिन'
शब्द : एक
शब्द : एक
DR. Kaushal Kishor Shrivastava
उम्र तो गुजर जाती है..... मगर साहेब
उम्र तो गुजर जाती है..... मगर साहेब
shabina. Naaz
* श्री ज्ञानदायिनी स्तुति *
* श्री ज्ञानदायिनी स्तुति *
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
सरकार हैं हम
सरकार हैं हम
pravin sharma
जीवन  के  हर  चरण  में,
जीवन के हर चरण में,
Sueta Dutt Chaudhary Fiji
Loading...