Sep 16, 2021 · 1 min read

भगवती गीत

भगवती गीत
°°°°°°°°°
अंबे माता हमर माँ भवानी,
किये हमरा सॅऽ दूरी बनेलौं,
खोजी अएलहुँ, पहाड़ पर्वत माँ,
एक निशानों कतौ हम न पयलौ।

हम नॅऽ जनलौं हे माँ, भेल गलती कोना,
हम तॅऽ जानी एते, जे अहीं सॅऽ जहां।
ई तन-मन अहीं कॅऽ, ई सब धन अहींक,
ई जिवन समर्पण अहीं कॅऽ, हे माँ।
अपन ममता कॅऽ आँचल ओढ़ाके,
दूर हमरा किये माता कयलौं।

अंबे माता हमर माँ भवानी…..

पाठ पूजा करब, ध्यान निशि दिन धरब,
माता चरणों में हर पल लिपटल रहब।
आब आबियो तॅऽ जाउ,माता आब नॅऽ सताउ।
नै तॅऽ द्वारि पर हे माता, हम बैसले रहब,
अपना चरणों कॅऽ दास बनाकऽ,
धन्य जिवन हमर माँ बनैतौ ।

अंबे माता हमर माँ भवानी…..

मौलिक एवं स्वरचित
सर्वाधिकार सुरक्षित।
© ® निरुपमा कर्ण
पटना (बिहार)
तिथि – १६/०९/२०२१
मोबाइल न. – 8271144282

6 Likes · 5 Comments · 342 Views
You may also like:
" एक हद के बाद"
rubichetanshukla रुबी चेतन शुक्ला
तप रहे हैं दिन घनेरे / (तपन का नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
कोई तो दिन होगा।
Taj Mohammad
पापा
Kanchan Khanna
यादों की भूलभुलैया में
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
💐💐तुमसे दिल लगाना रास आ गया है💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
माँ तुम अनोखी हो
Anamika Singh
*~* वक्त़ गया हे राम *~*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
गँवईयत अच्छी लगी
सिद्धार्थ गोरखपुरी
यही तो मेरा वहम है
Krishan Singh
परिवर्तन की राह पकड़ो ।
Buddha Prakash
मुफ्तखोरी की हुजूर हद हो गई है
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
चिड़िया रानी
Buddha Prakash
My Expressions
Shyam Sundar Subramanian
ठंडे पड़ चुके ये रिश्ते।
Manisha Manjari
¡*¡ हम पंछी : कोई हमें बचा लो ¡*¡
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
मैं पिता हूं।
Taj Mohammad
बोलती आँखे...
मनोज कर्ण
उफ ! ये गर्मी, हाय ! गर्मी / (गर्मी का...
ईश्वर दयाल गोस्वामी
बदलते रिश्ते
पंकज कुमार "कर्ण"
ईश्वर के संकेत
Dr. Alpa H.
गाँव री सौरभ
हरीश सुवासिया
गरीब लड़की का बाप है।
Taj Mohammad
एक नज़म [ बेकायदा ]
DR ARUN KUMAR SHASTRI
हाइकु_रिश्ते
Manu Vashistha
धूप कड़ी कर दी
सिद्धार्थ गोरखपुरी
हम भी है आसमां।
Taj Mohammad
🌺🌺प्रेम की राह पर-47🌺🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
प्रिय सुनो!
Shailendra Aseem
ऐ वतन!
Anamika Singh
Loading...